Followers

Showing posts with label Faridabad News. Show all posts

फरीदाबाद: चोरी की वारदात को अंजाम देने वाले 2 आरोपियो को क्राइम ब्रांच ने धर दबोचा

crime-branch-arrested-2-accused


फरीदाबाद- पुलिस उपायुक्त अपराध हेमेंन्द्र कुमार मीणा के द्वारा शहर में अपराध पर अंकुश लगाने के लिए आरोपियो की धर-पकड़ के दिए गए दिशा निर्देशानुसार कार्रवाई करते हुए अपराध शाखा उंचा गांव की टीम ने घर से चोरी की वारदात को अंजाम देने वाले 2 आरोपियो को गिरफ्तार किया है।

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों में पिंटू(29) और रिक्की कुमार(18) का नाम शामिल है आरोपी पिंटू मूल रुप से बिहार तथा रिक्की कुमार उत्तर प्रदेश का रहने वाला है और अब दोनों गांव सिही में किराए पर रहते है। दोनों आरोपियो को अपराध शाखा टीम ने अपने गुप्त सूत्रों से प्राप्त सूचना पर सेक्टर-8 सूरदास पार्क एरिया से गिरफ्तार किया है। आरोपियो से 2 लैपटॉप, 2 लैपटॉप चार्जर व एक LED व एक CD प्लेयर बरामद हुए है।

आरोपी सामान को बेचने के लिए आए थे। आरोपियो ने पूछताछ में बताया कि उन्होंने सामान को सेक्टर-10 के एक घर से चोरी किया था। जिसमें आरोपियो ने 2 लैपटॉप, 2 लैपटॉप चार्जर, LED TV व  CD प्लेयर व पानी की टूटी चोरी की थी। आरोपियो ने पानी की टूटी किसी व्यक्ति को बेच दी थी। दोनों आरोपी प्राइवेट कम्पनी में नौकरी करते है। आरोपियो ने चोरी की वारदात को अपने शौक पूरे करने के लिए किया था। दोनों आरोपियो को पूछताछ के बाद अदालत में पेश कर जेल भेजा गया है।

फरीदाबाद: अपनी बेटी समझकर पिता ने किसी और लड़की को मार दिया थप्पड़, फिर जो हुआ सुनकर आप..

murder-in-sanjay-colony-sector-23


फरीदाबाद के संजय कॉलोनी से एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है, एक गलतफहमी के चलते सुनील प्रसाद नाम के एक व्यक्ति की ह्त्या हो गई, ये घटना बीती रात लगभग साढ़े 11 बजे की है. मृतक सुनील के बेटे घटना की जानकारी देते हुए बताया कि एक गलतफहमी के कारण मेरे पिता की पीट-पीटकर ह्त्या कर दी गई. मृतक का कसूर सिर्फ इतना था कि उसने अपनी बेटी समझकर किसी दूसरी लड़की को थप्पड़ मार दिया था. 

मृतक सुनील प्रसाद के बेटे सक्षम ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि 'रात में घर में थोड़ी बहसबाजी चल रही थी तो मेरे पापा ने मेरी बहन से पानी माँगा। लेकिन पानी देने नहीं आई, उन्होंने सोंचा वो पीछे छत पर बैठी है तो जाकर अपनी बेटी समझकर उन्होंने किसी और लड़की को थप्पड़ मार दिया। हालाँकि उन्हें तुरंत ही गलती का एहसास हुआ और उन्होंने लड़की से व उसके परिवार से तुरंत माफ़ी मांग ली, इसके बावजूद लड़की के परिवार वालों ने उन्हें इतना मारा की मौत हो गई.

मृतक के बेटे ने बताया कि आरोपियों ने पहले जमकर पीटा, फिर छत से ही सीढ़ी पर फेंक दिया, उसके बाद सीढ़ी पर भी जमकर मारा जिसकी वजह से उनकी मौत हो गई, पीड़ित परिवार ने विकास, अखिलेश, पूजा और गुंजन के खिलाफ मुजेसर थाने में लिखित शिकायत दी है, हालाँकि उन्होंने आरोप लगाया है कि पुलिस ने मुकदमें में सिर्फ विकास और अखिलेश का नाम दर्ज किया है, दो आरोपियों का नाम नहीं दर्ज किया है, वहीँ पुलिस ने इस मामलें में दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने अन्य दो आरोपियों को भी गिरफ्तार करने का भरोसा दिया है, लेकिन पीड़ित परिवार का कहना है कि जब मुकदमें में नाम ही नहीं दर्ज किया तो गिरफ़्तारी कैसे करेंगे?

फरीदाबाद ट्रैफिक पुलिस ने कांवड़ियों के लिए चिन्हित किए 3 रास्ते, सुरक्षा रहेगी चाक-चौबंद

kanwad-yatra-route-in-faridabad


फरीदाबाद: श्रावण माह में कावड़ यात्रा शुरू हो रही है। कांवड़ियों की सुरक्षा को मध्यनजर रखते हुए पुलिस आयुक्त राकेश कुमार आर्य के दिशा निर्देश व पुलिस उपायुक्त यातायात ऊषा के मार्गदर्शन में यातायात पुलिस द्वारा कावड़ यात्रा कावड़ यात्रा के दौरान मार्ग में आने वाले चौराहो व भीड-भाड़ वाले स्थानों की सुरक्षा प्रबंधों को लेकर ड्रोन कैमरे से निरीक्षण किया गया है। 

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि महाशिवरात्रि के पावन पर्व पर लाखों की संख्या में श्रद्धालु नीलकंठ/हरिद्वार से कावड़ लाकर अपने गंतव्य स्थान पर पहुंच कर भगवान शिव की आराधना करते हैं। इसी क्रम में हजारों संख्या में श्रद्धालु कावड़ लेकर फरीदाबाद से होते हुए पलवल, नूहं, सोहना, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, मध्यप्रदेश के विभिन्न स्थानों पर अपनी यात्रा के लिए अग्रसर होते हैं। बहुत अधिक संख्या में श्रद्धालुओं द्वारा की जाने वाली इस यात्रा के दौरान उनके लिए शहर में मार्ग निर्धारित करके उन्हें एक सुगम तथा सुरक्षित रास्ता उपलब्ध कराकर उनकी सुरक्षा सुनिश्चित करते हुए यातायात पुलिस द्वारा 3 मार्गों चिन्हित किए गए है.

मार्ग न:1 कालिंदी कुंज दिल्ली से एमसीडी टोल से होते हुए आगरा कैनाल के साथ बना रोड, मार्ग न 2: बदरपुर बॉर्डर दिल्ली से प्रवेश करने के बाद आउटर बाईपास रोड फरीदाबाद तथा मार्ग न 3: बदरपुर बॉर्डर दिल्ली से प्रवेश करने के बाद राष्ट्रीय राजमार्ग है। मार्ग न. 1 कालिंदी कुंज दिल्ली से एमसीडी टोल से होते हुए आगरा कैनाल के साथ बना रोड मुख्य मार्ग होगा। 

यातायात पुलिस द्वारा उपरोक्त यात्रा मार्गों में आने वाले चौराहो व भीड-भाड़ वाले स्थानों का ड्रोन कैमरे से निरीक्षण करके सुरक्षा संबंधी जानकारी एकत्रित की जा रही है जिसके अनुसार आगे की रूपरेखा तैयार की जाएगी तथा  स्थान चिन्हित किए जाकर वहां पर व्यापक पुलिस बल की तैनाती की जाएगी ताकि कावड़ यात्रा के दौरान किसी प्रकार का अवरोद्ध उत्पन्न ना हो और ना ही किसी प्रकार की कानून व्यवस्था की स्थिति उत्पन्न हो।  

बल्लभगढ़ में सफाई व्यवस्था चरमराई तो अधिकारियों पर होगी कार्यवाही: मंत्री मूलचंद शर्मा

minister-moolchand-sharma-news-in-hindi


फरीदाबाद/बल्लभगढ़, 18 जुलाई। हरियाणा के उद्योग एवं वाणिज्य, श्रम, खाद्य नागरिक आपूर्ति व उपभोक्ता मामले तथा निर्वाचन मंत्री मूलचंद शर्मा ने आज बल्लभगढ़ में नगर निगम प्रशासन और एफएमडीए के अधिकारियों के साथ बैठक की।

कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा ने अधिकारियों को कहा कि बल्लभगढ़ में जब से सीवर लाइन डाली है तब से लेकर आज तक इन सीवर लाइन की बेहतर ढंग से सफाई कार्य विभाग द्वारा नहीं किया गया, जिस पर उन्होंने नाराजगी जताई। उन्होंने कहा कि भविष्य में सीवर जाम न हो इसके लिए सीवर लाइन के अंदर जमा सिल्ट पूरी तरीके से साफ किया जाए ताकि भविष्य के 25 सालों तक लोगों को सीवर जाम की समस्या नहीं आए। कैबिनेट मंत्री श्री शर्मा ने बल्लभगढ़ में साफ सफाई व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए सख्त लहजे में कहा है कि यदि शहर में साफ सफाई व्यवस्था चरमराई तो उसके लिए भी अधिकारी कार्यवाही के लिए तैयार रहे।

कैबिनेट मंत्री मूलचंद शर्मा ने बैठक में दिशा निर्देश देते हुए कहा कि बल्लभगढ़ के मुख्य मोहना रोड, तिगांव रोड और मलेरना रोड की मुख्य सीवर लाइन की सफाई जल्द से जल्द की जाए। इसके लिए जॉइंट टीम बनाने के भी निर्देश दिए हैं, ताकि दोनों विभाग मिलकर बल्लभगढ़ क्षेत्र की सीवर लाइन को बेहतर तरीके से साफ कर सके और लोगों की सीवर ओवरफ्लो की समस्या को दूर कर सके। उन्होंने दोनों विभागों के अधिकारियों द्वारा मिलकर कार्य करने के लिए दिशा निर्देश दिए।

बैठक में एसडीएम बल्लभगढ़ त्रिलोकचंद, जॉइंट कमिश्नर नगर निगम बल्लभगढ़  करण भदोरिया, एफएमडीए से चीफ विशाल बंसल, नगर निगम के चीफ इंजीनियर बीके कर्दम सहित कार्यकारी अभियंता और एसडीओ व जेई भी मौजूद रहे।

 

फरीदाबाद: गर्लफ्रेंड के साथ होटल में आए युवक ने खुद को मारी गोली, जांच में जुटी पुलिस

city-light-guest-house-in-faridabad-news


फरीदाबाद में कल एक युवक ने अपने सिर में गोली मार ली, ये मामला सेक्टर-24 में स्थित 'सिटी गेस्ट होटल वेदा इन' का है, जानकारी के अनुसार, युवक अपनी महिला मित्र के साथ होटल में आया था और खुद अपने सर में गोली मार ली, घायल अवस्था में युवक को एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया गया है, सूचना पाकर मौके पर पुलिस के आला अधिकारी भी पहुंचे। 

मुजेसर थाना के SHO दर्पण ने फरीदाबाद न्यूज़ से बात करते हुए जानकारी दी कि 'शिवम नाम का लगभग 28 वर्षीय युवक लड़की के साथ होटल में आया था और उसने होटल के अंदर ही अपने सर में गोली मार ली, युवक को अस्पताल में एडमिट कराया गया है, उसकी हालत गंभीर बनी हुई है, उन्होंने बताया कि युवक उत्तर प्रदेश के बरेली का रहने वाला है और 2-3 साल से फरीदाबाद में रह रहा है, वहीँ लड़की पर्वतीया कॉलोनी की रहने वाली है. लड़की से पूछताछ की जा रही है कि आखिर युवक ने गोली क्यों मारी?

अब सवाल यह उठता है कि आखिर युवक हथियार के साथ होटल में कैसे घुसा? क्या 'होटल वेदा इन' में जांच के लिए मेटल डिटेक्टर नहीं है? अगर नहीं है तो क्यों नहीं है? आज एक युवक हथियार लेकर आया हो सकता है कल को कोई और बड़ा हथियार लेकर घुस सकता है और बड़ी वारदात को अंजाम दे दे? अब देखना यह होगा कि आखिर पुलिस इस लापरवाही के लिए होटल मालिकों के खिलाफ भी कोई एक्शन लेती है या नहीं?

1 मुख्यमंत्री, 2 पूर्व CM, 2 केंद्रीय मंत्री ने किया प्रचार, फिर भी हुई करतार भड़ाना की हार

kartar-bhadana-lost-election-in-manglore


उत्तराखण्ड की मंगलौर विधानसभा सीट से भाजपा की टिकट पर उपचुनाव लड़े करतार सिंह भड़ाना 422 वोटों से चुनाव हार गए, कड़े मुकाबले में कांग्रेस प्रत्याशी काजी निजामुद्दीन ने बाजी मार ली और करतार भड़ाना को हार का सामना करना पड़ा.

आपको बता दें कि करतार भड़ाना फरीदाबाद में रहते हैं और इसी साल उन्होंने भाजपा का दामन थामा और भाजपा ने मंगलौर उपचुनाव में टिकट दे दिया, लेकिन करतार भड़ाना चुनाव जीतने में असफल रहे. काउंटिंग पूरी होने के बाद करतार भड़ाना को 31305 वोट मिले जबकि कांग्रेस प्रत्याशी काजी निजामुद्दीन को 31727 वोट मिले, काजी ने 422 वोटों से जीत हासिल की.

13 जून को भाजपा ने मंगलौर विधानसभा से करतार सिंह भड़ाना को टिकट दिया, उसके बाद से ही वो ताबड़तोड़ प्रचार करने में जुट गए, करतार भड़ाना के समर्थन में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, 2 पूर्व मुख्यमंत्री, 2 केंद्रीय मंत्री और कई विधायकों व राज्य के मंत्रियों ने जमकर प्रचार किया लेकिन इसके बावजूद भड़ाना जीत नहीं हासिल कर सके.

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी करतार भड़ाना के समर्थन में ताबड़तोड़ प्रचार किए, पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और तीरथ सिंह रावत ने भी प्रचार में कोई कमी नहीं छोड़ी। इसके अलावा आरएलडी प्रमुख और केंद्रीय मंत्री जयंत चौधरी भी करतार भड़ाना के समर्थन में रैली को सम्बोधित करने मंगलौर गए थे, फरीदाबाद के सांसद और केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने भी करतार भड़ाना के लिए प्रचार किया था मंगलौर में.

काउंटिंग के बाद करतार भड़ाना के समर्थक भी जीत का दावा कर रहे थे, अंततः चुनाव आयोग ने कांग्रेस प्रत्याशी काजी निजामुद्दीन को जीत का सर्टिफिकेट दिया।

भाजपा की टिकट पर भी नहीं जीत पाये करतार भड़ाना, मंगलौर उपचुनाव में काजी ने मारी बाजी

kartar-bhadana-lost-mangalore-by-election


उत्तराखण्ड की मंगलौर विधानसभा सीट से उपचुनाव लड़े करतार सिंह भड़ाना 422 वोटों से चुनाव हार गए हैं, कड़े मुकाबले में कांग्रेस प्रत्याशी काजी निजामुद्दीन ने बाजी मार ली, 4 राउंड तक काजी लगभग 8 हजार वोटों से आगे चल रहे थे लेकिन अंतिम 6 राउंड में करतार भड़ाना ने जबरदस्त वापसी की लेकिन जीत हासिल नहीं कर पाए. करतार भड़ाना फरीदाबाद के रहने वाले हैं.

आपको बता दें कि इसी साल करतार भड़ाना ने भाजपा का दामन थामा और भाजपा ने मंगलौर उपचुनाव में टिकट दे दिया, लेकिन करतार भड़ाना चुनाव जीतने में असफल रहे. पूरे 10 राउंड की गिनती पूरी होने के बाद करतार भड़ाना को 31305 वोट मिले जबकि कांग्रेस प्रत्याशी काजी निजामुद्दीन को 31727 वोट मिले, काजी ने 422 वोटों से जीत हासिल की.




सौर ऊर्जा ट्युबबेल कनेक्शन के लिए 25 जुलाई तक आवेदन कर सकते हैं फरीदाबाद के किसान

application-for-solar-energy-tubewell-connection


फरीदाबाद, 12 जुलाई। अतिरिक्त उपायुक्त डॉ. आनंद शर्मा ने बताया कि नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा विभाग हरियाणा के तहत जिला फरीदाबाद के किसान 8 श्रेणियों के 3 एच०पी०, 7.5 एच०पी० व 10 एच०पी० के सोलर ऊर्जा पम्प 75 प्रति अनुदान पर लगवाने हेतू हरियाणा सरकार के सरल पोर्टल (saralharyana.gov.in) पर दिनांक 11 जुलाई  से 25 जुलाई 2024 तक आवेदन कर सकते है।


अतिरिक्त उपायुक्त ने बताया कि बिजली आधारित कनैक्शन डीएचबीवीएन के मौजूदा आवेदकों को सौर ऊर्जा पम्प के कनैक्शन के लिए प्राथमिकता दी जाएगी, उनको अपने मौजूदा बिजली कनैक्शन का समर्पण करना पड़ेगा। वर्ष 2019 से 2021 तक के मौजूदा किसान जिन्होनें 1 एच.पी. 10 एच.पी. बिजली आधारित कृषि ट्यूबवैल के लिए डिस्कॉम (यूएचबीवीएन/डीएचबीवीएन) में आवेदन किया था उन्हें पी.एम. कुसुम योजना के तहत सोलर पम्प कनेक्शन में प्राथमिकता दी जायेगी। इस वर्ष के लक्षित लाभार्थियों का चयन परिवार की वार्शिक आय व भूमि धारण के आधार पर किया जाएगा।


अतिरिक्त उपायुक्त ने बताया कि पुराने सभी आवेदक (20. 02.2024 से 05.03.2024) तक के आवेदकों को छोड़कर) नये सिरे से आवेदन करें (जिन्होनें अभी तक लाभार्थी हिस्सा जमा नहीं करवाया है)। बिना लाभार्थी हिस्सा के जमा किये गये आवेदन को रद्द माना जायेगा। जिन आवेदकों ने 20.02.2024 से 05.03.2024 तक आवेदन किया था उन्हें दोबारा आवेदन करने की जरूरत नहीं हैं। वे अपने पुराने आवेदन से प्राप्त चालान के अनुसार अपना लाभार्थी हिस्सा जमा करवाएं (अगर किसी ने एक से ज्यादा आवेदन किये है तो उनका केवल पहला आवेदन मान्य होगा)। ऑनलाईन आवेदन करने के लिए सभी किसानों को आवश्यक दस्तावेज जैसे परिवार पहचान पत्र, आवेदक के नाम पर बिजली आधारित पम्प न हों, आवेदक के नाम पर कृषि भूमि की जमाबन्दी/फर्द होना आवश्यक है। किसान अपने खेत में सूक्ष्म सिंचाई प्रणाली जैसे टपका, फव्वारा सिंचाई या भूमिगत पाईप लाईन स्थापित हो या पम्प लगाने से पहले स्थापित कर लेगें (प्रमाण पत्र / शपथ पत्र), अपलोड करना अति आवश्यक है। हरियाणा जल संसाधन प्राधिकरण के सर्वेक्षण के अनुसार उन गांवों में जहां भूजल स्तर 100 फीट से नीचे चला गया है सूक्ष्म सिंचाई प्रणाली की स्थापना अनिवार्य है, अन्य को भूमिगत पाईप लाइन या सूक्ष्म सिंचाई प्रणाली को लगाना अनिवार्य होगा। धान उगाने वाले किसान जिनके क्षेत्र में एचडब्ल्यूआरए (HWRA) की रिपोर्ट के आधार पर भूजल स्तर 40 मीटर से नीचे गिर गया है वह किसान इस योजना के पात्र नहीं है। किसान हरियाणा सरकार के सरल पोर्टल (saralharyana.gov.in) पर अपने ऑनलाईन में क्षमता अनुसार जैसे 3 एच०पी० डी०सी० सरफेस मोनोब्लॉक (राशि 53,926 रूपये), 7.5 एच०पी० डी०सी० सबमर्सिबल नार्मल कंट्रोलर (राशि 1,13,629 रूपये) तथा 10 एच०पी०डी०सी० सबमर्सिबल नार्मल कंट्रोलर (राशि 1,42,170 रूपये) और 10 एच०पी० ए०सी० सबमर्सिबल नार्मल कंट्रोलर (राशि 1,40,759 रूपये), 10 एच०पी० डी०सी० सबमर्सिबल यूनिवर्सल कंट्रोलर (राशि 2,02,253 रूपये) और 10 एच०पी० ए०सी० सबमर्सिबल यूनिवर्सल कंट्रोलर सोलर (राशि 2,06,486 रूपये) पम्प के लिए आवेदन व अपनी इच्छानुसार कम्पनी का चयन कर सकते है । इसके उपरांत फार्म जमा करने पर आपको एक चालान प्राप्त होगा जिसमें लाभार्थी हिस्सा जमा करने के लिए एक आभासी खाता (virtual account) नम्बर लिखा होगा जोकि हर आवेदक का अलग होता है। इसके उपरांत आप अपना लाभार्थी हिस्सा इस आभासी खाते (virtual account) में NEFT/RTGS से किसी खाते से या बैंक में जाकर जमा करवाना होगा। सरल पोर्टल पर दोबारा जाकर पेमेंट वेलीडेट करने के बाद ही किसान का आवेदन पूरा होगा, अन्यथा किसान का आवेदन पत्र रदद् समझा जायेगा।


सोलर वाटर पम्पिगं सिस्टम से सम्बन्धित अधिक जानकारी व नियम और शर्तों की विस्तृत जानकारी के लिए जिले के किसान विभाग की वेबसाईट (http://hareda.gov.in) पर जा सकते है या किसी भी कार्य दिवस पर कार्यालय अतिरिक्त उपायुक्त एवं मुख्य परियोजना अधिकारी, फरीदाबाद, कमरा नम्बर 403 में संपर्क कर सकते हैं।

कावड़ यात्रा के संबंध में फरीदाबाद पुलिस ने लिया रूट का जायजा, दिए आवश्यक दिशा निर्देश

kanwad-yatra-route-in-faridabad


फरीदाबाद: 20 जुलाई से 2 अगस्त तक प्रस्तावित कावड़ यात्रा के संबंध में फरीदाबाद द्वारा सम्बंधित रूट का निरिक्षण किया गया है तथा यातायात के सम्बन्ध में आवश्यक दिशा निर्देश देकर कावड़ यात्रियों का रूट निर्धारित किया गया है।


पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि कावड़ यात्रियों द्वारा अपने गंतव्य स्थान पर पहुँचने के लिए फरीदाबाद जिला के 3 मार्गों का प्रयोग किया जाता है. मार्ग न:1 कालिंदी कुंज दिल्ली से एमसीडी टोल से होते हुए आगरा कैनाल के साथ बना रोड, मार्ग न 2: बदरपुर बॉर्डर दिल्ली से प्रवेश करने के बाद आउटर बाईपास रोड फरीदाबाद तथा मार्ग न 3: बदरपुर बॉर्डर दिल्ली से प्रवेश करने के बाद राष्ट्रीय राजमार्ग है। मार्ग न. 1 कालिंदी कुंज दिल्ली से एमसीडी टोल से होते हुए आगरा कैनाल के साथ बना रोड मुख्य मार्ग चिन्हित किया गया है।


अधिक जानकारी देते हुए बतलाया कि डीसीपी ट्रैफिक उषा द्वारा कावड़ यात्रियों के मार्ग के निरीक्षण के दौरान मार्ग पर लगने वाले शिविरों में पर्याप्त व्यवस्था करने, मार्ग पर गड्ढों को भरने व जल भराव की स्थिति से निपटने के लिए संबंधित विभाग से संपर्क करके इसे दुरुस्त करवाने के निर्देश दिए। कावड़ यात्रा के मार्ग पर पर्याप्त मात्रा में सीसीटीवी कैमरे लगवाने और रास्ते से अतिक्रमण को हटवाकर रास्ता साफ करवाने बारे भी कहा गया है। आमजन व कावड़ियों की क्रॉसिंग करवाने के लिए पॉइंट चिन्हित करके आवश्यक बैरिकेडिंग करने बारे यातयात प्रभारी को निर्देशित किया गया है. इसके साथ ही यह भी निर्देशित किया गया है कि कावड़ यात्रा के मार्ग पर कोई भी बिजली की नंगी तार न लटकी हो, रास्ते के दोनों तरफ की झाड़ियों को साफ करवाकर रोशनी की पर्याप्त व्यवस्था हो तथा मार्ग पर पड़ने वाली मीट की दुकानों को यात्रा के दौरान बंद या स्थानांतरित करवाया जाए।


डीसीपी ट्रैफिक उषा ने अपील करते हुए कहा, सभी वाहन चालक ध्यान दें और अपनी मंजिल तक पहुंचने के लिए अपना मार्ग चुने और फरीदाबाद ट्रैफिक पुलिस का सहयोग करें। आमजन यातायात संबंधित किसी भी सहायता के लिए ट्रैफिक पुलिस सहायता केंद्र के नम्बर 0129-2225999, 9582200138 पर सम्पर्क कर सकते हैं।

समाधान शिविर में आई 37 शिकायतों में से 17 का DC ने मौके पर ही करवाया निपटारा

samadhan-camp-in-faridabad-news-hindi


फरीदाबाद, 11 जुलाई। जिला व उपमंडल स्तर पर प्रत्येक कार्यदिवस पर समाधान शिविर लगाकर मौके पर ही लोगों की शिकायतों का समाधान किया जा रहा है। इसी श्रृंखला में आज वीरवार को सेक्टर-12 स्थित लघु सचिवालय के कमरा नंबर 106 में सुबह 9 से 11 बजे तक समाधान शिविर लगाया गया।


उपायुक्त विक्रम सिंह ने शिविर में आए लोगों की शिकायतें सुनकर उनका समाधान करवाया। उपायुक्त ने बताया कि आज वीरवार को आयोजित समाधान शिविर में विभिन्न विभागों से संबंधित 37 शिकायतें आई, जिनमें से 17 का मौके पर ही समाधान करवा दिया गया। उन्होंने बताया कि समाधान शिविर में लोगों की शिकायतों का जल्द से जल्द समाधान करवाया जाता है। इसके अलावा जो शिकायतें लंबित रह जाती है उन्हें संबंधित विभाग के अधिकारी से जल्द समाधान करवाने के निर्देश दिए जाते हैं।


उन्होंने बताया कि समाधान शिविरों में ज्यादातर शिकायतें पेंशन और फैमिली आईडी से संबंधित आ रही है। इसके लिए संबंधित विभाग के अधिकारी को समस्या के जल्द समाधान के लिए निर्देशित किया जाता है। नीतिगत मामलों से संबंधित शिकायतों के लिए मुख्यालय को रिपोर्ट किया जाता है। शिविर को लेकर नागरिकों का रूझान बढ़ा है तथा नागरिक अपनी अर्जी लेकर उनका समाधान करवाने के लिए समाधान शिविर में पहुंच रहे हैं।


शिविर में डीसीपी ट्रैफिक उषा देवी, एडीसी डॉ. आनंद शर्मा, नगराधीश अंकित कुमार, जिला ग्रीवेंस कमेटी के सदस्य वजीर डागर सहित अन्य विभाग के अधिकारी उपस्थित रहे।

फर्जी वेबसाइट बनाकर छात्रों को विदेश भेजने वाले आरोपी को फरीदाबाद पुलिस ने किया गिरफ्तार

faridabad-police-arrested-1-cyber-fraud


फरीदाबाद: डीसीपी साइबर क्राइम जसलीन कौर के दिशा निर्देश तथा एसीपी साइबर अभिमन्यु के मार्गदर्शन में कार्रवाई करते हुए साइबर थाना बल्लबगढ़ की टीम फर्जी वेबसाइट बनाकर विदेश भेजने वाले एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि गिरफ्तार किए गए आरोपी का नाम सुशील कुमार है जो जींद जिले के सेक्टर 11 का रहने वाला है। 


दिनांक 30 मई 2024 को साइबर थाना बल्लबगढ़ में धोखाधड़ी की धाराओं के अंतर्गत साइबर थाना बल्लबगढ़ में मुकदमा दर्ज किया गया था। आरोपी सुशील ने जेसी बॉस यूनिवर्सिटी ऑफ़ साइंस एंड टेक्नोलॉजी की एक फर्जी वेबसाइट बनाई थी जिसमें आरोपी को जींद जिले से गिरफ्तार किया गया। पुलिस जांच में सामने आया कि आरोपी यूफोरिक ओवरसीज नाम से एक संस्था चलाता है जो स्टडी वीजा पर छात्रों को विदेश भेजने पर काम करता है। 


आरोपी ने एक छात्र को विदेश भेजने के लिए उसकी जेसी बोस यूनिवर्सिटी की फर्जी डिग्री तैयार की और उस फर्जी डिग्री की पुष्टि के लिए फर्जी वेबसाइट बनाई थी ताकि यदि कोई उसे वेबसाइट पर जाकर डिग्री की सत्यता जानना चाहे तो उसे डिग्री असली प्रतीत हो। छात्र को भी यह विश्वास हो जाए कि यह डिग्री असली है। फर्जी डिग्री को जपत करके पुलिस द्वारा आरोपी से मामले में जांच की जा रही है। जांच के दौरान सामने आएगा कि आरोपी ने इससे पहले कितने लोगों के साथ ठगी के वारदात को अंजाम दिया है और उसके पश्चात पुलिस द्वारा कानून के तहत कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। पुलिस पूछताछ के बाद आरोपी को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है।

ईस्ट फरीदाबाद को वेस्ट फरीदाबाद से जोडऩे के लिए मंजूर हुए 2 बड़े प्रोजेक्ट, 1530 करोड़ आएगा खर्च

east-faridabad-will-be-connected-to-west-faridabad


कल मुख्यमंत्री नायब सिंह की अध्यक्षता में चंडीगढ़ में फरीदाबाद मेट्रोपॉलिटन डेवलपमेंट अथॉरिटी की पांचवीं बैठक आयोजित की गई, इस बैठक में फरीदाबाद के विकास के लिए कई योजनाओं को मंजूरी मिली। इसी कड़ी में  ईस्ट फरीदाबाद को वेस्ट फरीदाबाद से जोडऩे के लिए 2 प्रोजेक्ट को मंजूरी प्रदान की गई है। 

इन दोनों परियोजनाओं की कुल लागत लगभग 1530 करोड़ रुपये आएगी। ईस्ट फरीदाबाद से  वेस्ट फरीदाबाद (बडख़ल रूट) पर पाँच फ्लाईओवर, 5 यू-टर्न और अंखीर चौक (सूरजकुंड की तरफ से) पर एक कनेक्टिंग फ्लाईओवर बनाया जाना प्रस्तावित है। इसके साथ, एप्रोच रोड, सविर्स रोड और ड्रेनेज सुविधाओं को भी पूरा किया जाएगा। इस पर लगभग 848 करोड़ की लागत आएगी।

इसी प्रकार, ईस्ट फरीदाबाद से वेस्ट फरीदाबाद (बाटा रूट) के प्रोजेक्ट पर भी लगभग 682 करोड रुपए खर्च किए जाएंगे। इसमें 4 फ्लाईओवर, 3 यू-टर्न, एक अंडरपास, और मस्जिद चौक पर मुल्ला होटल की ओर एक कनेक्टिंग फ्लाईओवर बनाया जाना प्रस्तावित है। इसके साथ, एप्रोच रोड, सविर्स रोड और ड्रेनेज सुविधाओं को भी पूरा किया जाएगा।

फरीदाबाद: अपने प्रेमी सलीम के साथ मिलकर बेटी ने करवाया पिता मुस्तकीम का मर्डर, 3 आरोपी गिरफ्तार

mustkim-murder-in-faridabad-sgm-nagar


फरीदाबाद: डीसीपी क्राइम हेमेंद्र कुमार मीणा के दिशा निर्देश के तहत कार्रवाई करते हुए क्राइम ब्रांच डीएलएफ की टीम ने 10 दिन पहले एसजीएम नगर एरिया में हत्या की वारदात के मामले में एक नाबालिक लड़की सहित 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। एसीपी क्राइम अमन यादव ने प्रेस वार्ता के दौरान बताया कि गिरफ्तार किए गए आरोपियों में सलीम उर्फ लाला तथा कासिम का नाम शामिल है। 

आरोपी सलीम आदर्श कॉलोनी और आरोपी कासिम कुरैशीपुर का रहने वाला है। तीसरी आरोपी मृतक की नाबालिक बेटी है जिसने आरोपी के साथ मिलकर अपने पिता की हत्या की योजना बनाई थी। दिनांक 27 जून को एसजीएम नगर थाने में गुमशुदगी की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था जिसमें महिला ने अपने 55 वर्षीय पति मुस्तकीम के लापता होने की रिपोर्ट लिखाई थी। पुलिस द्वारा बुजुर्ग की तलाश के लिए आसपास पूछताछ की गई परंतु उनका कहीं पता नहीं चला। 1 जुलाई को न्यू कॉलोनी ग्राउंड में बुजुर्ग का शव नाली में दबा हुआ मिला। 

मृतक के परिजनों को बुलाकर शिनाख्त करवाई गई जिनके द्वारा मुस्तकीम के रूप में पहचान की। मामले में हत्या की धाराएं जोड़कर पुलिस जांच की गई जिसमें क्राइम ब्रांच की टीम ने वारदात के मुख्य आरोपी सलीम को 6 जुलाई को मुल्ला होटल के पास से गिरफ्तार कर लिया। आरोपी को अदालत में पेश करके 3 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया जिसमें पुलिस रिमांड के दौरान पूछताछ में सामने आया कि आरोपी सलीम मृतक की 16 वर्षीय लड़की से प्रेम करता था जिसका पता लड़की के पिता को चल गया था। लड़की के पिता को यह मंजूर नहीं था। लड़की ने यह बात सलीम को बताई।

आरोपी सलीम तथा उसके दोस्त कासिम ने लड़की के साथ मिलकर लड़की के पिता मुस्तकीम को मारने की योजना बनाई। योजना के तहत लड़की ने ही 25 जून की शाम अपने पिता को चक्की से आटा लाने के लिए भेजा और कहा कि उसका मोबाइल सलीम के पास है। सलीम वहां आएगा और उन्हें मोबाइल दे देगा। लड़की के कहे अनुसार उसका पिता आटे की चक्की पर गया जहां उसे सलीम और कासिम दिखाई दिए। आरोपी मोबाइल देने का बहाना बनाकर बुजुर्ग को मोटरसाइकिल पर अपने साथ ले गए और न्यू जनता कॉलोनी ग्राउंड में ले जाकर पत्थर से चोट मारकर उनकी हत्या कर दी। पुलिस रिमांड के दौरान दी गई जानकारी के आधार पर क्राइम ब्रांच में आज आरोपी कासिम को भी गिरफ्तार कर लिया। पुलिस द्वारा इस मामले में तफ्तीश जारी है। पुलिस रिमांड के दौरान आरोपी सलीम के कब्जे से वारदात में प्रयोग पत्थर बरामद किया जाएगा।

राजा नाहर सिंह स्टेडियम और स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स का होगा विकास, 292 करोड़ रुपए की मिली मंजूरी

raja-nahar-singh-stadium-devleopment


राजा नाहर सिंह क्रिकेट स्टेडियम कुछ वर्ष पहले फरीदाबाद की शान समझा जाता था लेकिन सरकारी और स्थानीय प्रशासन, नेताओं की अनदेखी की वजह से धीरे धीरे यह स्टेडियम खँडहर में तब्दील होता चला गया, कुछ सालों पहले इस स्टेडियम के पुनरुद्धार के लिए 115 करोड़ रुपये जारी किए गए थे लेकिन वो भ्रस्टाचार की भेंट चढ़ गया, अब एक बार फिर हरियाणा सरकार ने नाहर सिंह स्टेडियम की सुध ली है.

मुख्यमंत्री नायब सिंह की अध्यक्षता में चंडीगढ़ में हुई फरीदाबाद मेट्रोपॉलिटन डेवलपमेंट अथॉरिटी की पांचवीं बैठक आयोजित की गई, जिसमें फरीदाबाद उपायुक्त व अन्य संबंधित अधिकारी वीडियो कान्फ्रेंस के माध्यम से शामिल हुए। इस बैठक में हरियाणा सरकार ने राजा नाहर सिंह स्टेडियम और स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स के लिए  292 करोड़ रुपए की मंजूरी दी है.

हरियाणा सरकार लगातार प्रदेश के युवाओं को विश्व स्तरीय खेल अवसंरचना प्रदान करने पर जोर दे रही है। इसी कड़ी में फरीदाबाद शहर में राजा नाहर सिंह अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम के आधुनिकीकरण सहित इसे विश्व स्तरीय एकीकृत खेल परिसर के रूप में विकसित किया जाएगा। इसके लिए आज लगभग 292 करोड़ रुपए के प्रोजेक्ट को मंजूरी प्रदान की गई है। इसके तहत आउटडोर खेलों के लिए बास्केटबॉल, टेनिस, बैडमिंटन, वॉलीबॉल कोर्ट बनाए जाएंगे। साथ ही एथलेटिक ट्रैक, जोगिंग ट्रैक ओलंपिक साई स्वीमिंग पूल और साइकिल ट्रैक भी बनाए जाएंगे। इतना ही नहीं, इंडोर खेलों के लिए भी अलग से ढांचागत निर्माण किया जाएगा।

बैठक में एनएच-3 फरीदाबाद में स्थित खेल क्लब के पुनर्विकास प्रोजेक्ट को भी मंजूरी दी गई। इसमें स्विमिंग पूल, कैफेटेरिया, विभिन्न खेलों के लिए कोर्ट बनाए जाएंगे और साथ ही इंडोर खेल सुविधाएं भी विकसित की जाएंगी। इस पर लगभग 83 करोड़ रुपये की राशि खर्च की जाएगी।

फरीदाबाद में पेयजल और जल निकासी के लिए 2600 करोड़ रुपये मिलेंगे

solution-to-the-problem-of-water-drainage-in-faridabad


फरीदाबाद, 10 जुलाई। हरियाणा के मुख्यमंत्री नायब सिंह ने बुधवार को वीडियो कान्फ्रेंस के माध्यम से एफएमडीए की बैठक लेते हुए एजेंडा पर विस्तृत चर्चा की। इस दौरान बैठक में शामिल उपायुक्त विक्रम सिंह ने कहा कि एजेंडा में शामिल विकास परियोजनाओं से औद्योगिक नगरी के विकास को नया रूप मिलेगा। 

मुख्यमंत्री नायब सिंह की अध्यक्षता में चंडीगढ़ में हुई फरीदाबाद मेट्रोपॉलिटन डेवलपमेंट अथॉरिटी की पांचवीं बैठक आयोजित की गई, जिसमें फरीदाबाद उपायुक्त व अन्य संबंधित अधिकारी वीडियो कान्फ्रेंस के माध्यम से शामिल हुए। बैठक में फरीदाबाद वासियों को पेयजल और जल निकासी की समस्या से निजात दिलाने के लिए लगभग 2600 करोड़ रुपये के प्रोजेक्ट को मंजूरी प्रदान की गई है। इस प्रोजेक्ट के तहत 22 रैनीवैल, रिवर्स रोटरी तकनीक से 70 ट्यूबवेल और 8 बूस्टिंग स्टेशन बनाए जाएंगे। इसके अलावा, अन्य बूस्टिंग स्टेशनों तक भी पानी की आपूर्ति करने के लिए सब्सिडरी बूस्टिंग स्टेशनों के निर्माण के साथ-साथ लगभग 500 किमी पाइप लाइन भी बिछाई जाएगी। इस प्रोजेक्ट के पूरा होने से जलापूर्ति क्षमता 450 एमएलडी तक पहुंच जाएगी। वर्ष 2028-2029 तक इस बड़ी परियोजना के पूरा होने के बाद फरीदाबाद में रैनीवेल्स की संख्या 56 हो जाएगी और 220 ट्यूबवेल होंगे।

बैठक में बरसाती पानी की निकासी के लिए सीवरेज की सफाई और पुराने सीवरेज सिस्टम को बदलने के लिए भी प्रोजेक्ट को मंजूरी दी गई है। इस पर लगभग 1289 करोड़ रुपए की लागत आएगी। इस प्रोजेक्ट के तहत मौजूदा सीवरेज प्रणाली का जीर्णोद्धार, नई लाइनों को बिछाना, सीआईपीपी लाइनिंग, मुख्य सीवर लाइनों की सफाई, नए प्रस्तावित पंपिंग स्टेशन इसके अलावा, पानी की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करने और भूजल स्तर में सुधार करने के लिए यमुना के साथ-साथ वाटर बॉडिज बनाने के प्रोजेक्ट को भी मंजूरी दी गई। इस पर लगभग 17 करोड़ रुपए की लागत आएगी।

बैठक में ईस्ट फरीदाबाद को वेस्ट फरीदाबाद से जोडऩे के लिए 2 प्रोजेक्ट को मंजूरी प्रदान की गई है। इन दोनों परियोजनाओं की कुल लागत लगभग 1530 करोड़ रुपये आएगी। ईस्ट फरीदाबाद से  वेस्ट फरीदाबाद (बडख़ल रूट) पर पाँच फ्लाईओवर, 5 यू-टर्न और अंखीर चौक (सूरजकुंड की तरफ से) पर एक कनेक्टिंग फ्लाईओवर बनाया जाना प्रस्तावित है। इसके साथ, एप्रोच रोड, सविर्स रोड और ड्रेनेज सुविधाओं को भी पूरा किया जाएगा। इस पर लगभग 848 करोड़ की लागत आएगी।

इसी प्रकार, ईस्ट फरीदाबाद से वेस्ट फरीदाबाद (बाटा रूट) के प्रोजेक्ट पर भी लगभग 682 करोड रुपए खर्च किए जाएंगे। इसमें 4 फ्लाईओवर, 3 यू-टर्न, एक अंडरपास, और मस्जिद चौक पर मुल्ला होटल की ओर एक कनेक्टिंग फ्लाईओवर बनाया जाना प्रस्तावित है। इसके साथ, एप्रोच रोड, सविर्स रोड और ड्रेनेज सुविधाओं को भी पूरा किया जाएगा।

बैठक में बादशाहपुर में 45 एमएलडी क्षमता वाले नए सीवेज उपचार संयंत्र (एसटीपी) और मुख्य पंपिंग स्टेशन (एमपीएस) के निर्माण के प्रस्ताव को भी मंजूरी दी गई। इसकी अनुमानित लागत लगभग 126 करोड़ रुपये आएगी। वर्तमान में बादशाहपुर में एक और 45 एमएलडी एसटीपी की मरम्मत और पुनर्वास का कार्य चल रहा है, जिसके 30 जुलाई तक पूरा होने की संभावना है। इसके अलावा, मास्टर वाटर सप्लाई योजना के तहत लगभग 77 करोड़ रुपये की लागत से पानी के डिस्चार्ज हेतु मौजूदा पाइपलाइन को बदलने के प्रस्ताव को भी मंजूरी प्रदान की गई।

बैठक में केंद्रीय सहकारिता राज्य मंत्री कृष्णपाल और एफएमडीए के अन्य सदस्य वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए शामिल हुए। चंडीगढ़ में हुई बैठक में वित्त तथा नगर एवं ग्राम आयोजना मंत्री जयप्रकाश दलाल, उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री मूल चंद शर्मा, शिक्षा राज्य मंत्री सीमा त्रिखा, परिवहन राज्य मंत्री असीम गोयल, शहरी स्थानीय निकाय राज्य मंत्री सुभाष सुधा, विधायक गण, मुख्य सचिव टीवीएसएन प्रसाद, मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव राजेश खुल्लर, अर्बन प्लानिंग सलाहकार डी.एस. ढेसी, नगर एवं ग्राम आयोजना विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव अरुण कुमार गुप्ता, एफएमडीए के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ए. श्रीनिवास और अन्य अधिकारी भी मौजूद थे। जबकि फरीदाबाद से वीडियो कान्फ्रेंस के माध्यम से पुलिस आयुक्त राकेश आर्य तथा नगर निगम की आयुक्त ए. मोना श्रीनिवास ने बैठक में हिस्सा लिया।

फरीदाबाद: समाधान शिविर में आने वाली शिकायतों का तुरंत करें निपटारा, DC ने दिए कड़े निर्देश

samadhan-camp-in-faridabad


फरीदाबाद, 09 जुलाई। समाधान शिविरों में आने वाली शिकायतों के शीघ्र समाधान के लिए उपायुक्त विक्रम सिंह ने कड़े निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि शिविर में आई शिकायतों को लंबित न रखा जाए। शिकायतों का निवारण तुरंत प्रभाव से किया जाए, जिसकी रिपोर्ट नियमित रूप से उपायुक्त कार्यालय को प्रेषित की जाए।

समाधान शिविरों में आने वाली शिकायतों को लेकर लघु सचिवालय में एक समीक्षात्मक बैठक का आयोजन किया गया, जिसकी अध्यक्षता उपायुक्त विक्रम सिंह कर रहे थे। उन्होंने विस्तार से विभाग अनुसार शिकायतों पर चर्चा की। संबंधित अधिकारियों से शिकायतों के लंबित रहने का कारण पूछते हुए तुरंत निपटान के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जिला स्तर पर समाधान की जाने वाली शिकायतों के समाधान में कोई देरी नहीं होनी चाहिए। पॉलिसी  लेवल की शिकायतों को समाधान के लिए मुख्यालय प्रेषित करें, किंतु उस संदर्भ में रिप्लाई अवश्य दें। समाधान की जाने वाली शिकायतों की जानकारी भी नियमित रूप से उपायुक्त कार्यालय को प्रेषित करें।

उपायुक्त विक्रम सिंह ने निर्देश दिए कि समाधान शिविर में आने वाली प्रत्येक शिकायत को पूर्ण गंभीरता से लेते हुए प्राथमिकता के साथ समाधान करवायें। किसी भी प्रकार की लापरवाही स्वीकार्य नहीं होगी। उन्होंने बताया कि समाधान शिविरों में अधिकांश शिकायतें परिवार पहचान पत्र को लेकर प्राप्त हो रही हैं। ऐसे में समाधान के मामले में इन्ही शिकायतों की संख्या अधिक है। दूसरे विभागों से संबंधित शिकायतें तुलनात्मक दृष्टि से कम है। सभी विभागीय अधिकारी उनसे संबंधित शिकायतों का समाधान करवायें।

उपायुक्त विक्रम सिंह ने विभिन्न विभागीय अधिकारियों से उनसे संबंधित शिकायतों को लेकर विस्तार से विचार-विमर्श भी किया। साथ ही उन्होंने शिकायतों के समाधान को लेकर आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए। बैठक में डीसीपी ऊषा, एसडीएम त्रिलोकचंद, एसडीएम अमित मान, एसडीएम शिखा आंतिल, नगराधीश अंकित, नगर निगम के संयुक्त आयुक्त गजेंद्र सिंह, डीआरओ बिजेंद्र राणा, डीएसडबल्यूओ सरफराज खान, डीडबल्यूओ ममता शर्मा, डीएसओ देवेंद्र गुलिया आदि अधिकारीगण मौजूद थे।

फरीदाबाद: क्राइम ब्रांच ने 2 भगोड़ों को पकड़ा, एक 18 साल से तो दूसरा 5 साल से चल रहा था फरार

crime-branch-arrested-2-accused


फरीदाबाद- पुलिस उपायुक्त अपराध हेमेन्द्र कुमार मीणा के द्वारा अपराधिक गतिविधियो में शामिल आरोपियों की धर-पकड़ के दिए गए दिशा निर्देशानुसार कार्रवाई करते हुए पीओ स्टाफ अपराध शाखा 17 की टीम ने 18 साल पुराने शराब तस्करी के मुकदमे में फरार चल रहे आरोपी पीओ को गिरफ्तार किया है।

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि गिरफ्तार किए गए आरोपी का नाम राकेश है जो उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर का रहने वाला है। मई 2005 में सराय थाने में शराब तस्करी की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था। माननीय अदालत द्वारा आरोपी को जमानत दे दी गई। इसके बाद आरोपी तारीख पर अदालत से गैर हाजिर रहने लगा।  आरोपी को सितंबर 2006 में माननीय अदालत द्वारा पीओ घोषित किया गया था जिसकी धरपकड़ का प्रयास लगातार जारी था परंतु आरोपी बार-बार अपने ठिकाने बदल रहा था। अब क्राइम ब्रांच की टीम को गुप्त सूत्रों से सूचना प्राप्त हुई कि आरोपी मुजफ्फरनगर में मौजूद है जिसपर क्राइम ब्रांच की टीम ने मामले में आगे कार्रवाई करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस पूछताछ पूरी होने के बाद आरोपी को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है।

पीओ स्टाफ अपराध शाखा 17 की टीम ने 5 साल पुराने एनडीपीएस के मुकदमे में फरार चल रहे आरोपी पीओ को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किए गए आरोपी का नाम विजय उर्फ बिरजू है जो उत्तर प्रदेश के गौतम बुद्ध नगर का रहने वाला है। अक्टूबर 2017 में सराय थाने में एनडीपीएस की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था। आरोपी के कब्जे से 5 किलोग्राम गांजा बरामद किया गया था। पुलिस द्वारा आरोपी को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया था। बाद में आरोपी जमानत पर जेल से बाहर आ गया। इसके बाद आरोपी तारीख पर अदालत से गैर हाजिर रहने लगा। 

आरोपी को अक्टूबर 2019 में माननीय अदालत द्वारा पीओ घोषित किया गया था जिसकी धरपकड़ का प्रयास लगातार जारी था परंतु आरोपी बार-बार अपने ठिकाने बदल रहा था। अब क्राइम ब्रांच की टीम को गुप्त सूत्रों से सूचना के आधार पर मामले में आगे कार्रवाई करते हुए आरोपी को गौतम बुध नगर में सेक्टर 128 से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस पूछताछ पूरी होने के बाद आरोपी को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है।

सार्वजनिक स्थानों पर धूम्रपान करने पर सब इंस्पेक्टर आस मोहम्मद के खिलाफ हुई कार्यवाही

sub-inspector-aas-mohammad-news-in-hindi


फरीदाबाद-  सार्वजनिक स्थान पर धूम्रपान करने पर सब इंस्पेक्टर आस मोहम्मद का कोटपा, 2003 के अन्तर्गत काटा गया चालान। 

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि सार्वजनिक स्थान पर धुम्रपान करने पर सिगरेट एवं अन्य तंबाकू उत्पाद अधिनियम (कोटपा) 2003 के अन्तर्गत कार्यवाही की‌ जाती है। सार्वजनिक स्थान में अस्पताल भवन, स्वास्थ्य संस्थान, मनोरंजन केंद्र, रेस्तरां, होटल, सरकारी कार्यालय, न्यायालय भवन, शैक्षिक संस्थान, पुस्तकालय, सार्वजनिक वाहन, स्टेडियम, रेलवे स्टेडियम, बस स्टाॅप, कार्यस्थल, शाॅपिंग माॅल, सिनेमा हाॅल, जलपान कक्ष, पब, बार, हवाई अड्डा के लांउज इत्यादि शामिल हैं।

उप निरीक्षक आस मोहम्मद द्वारा सार्वजनिक स्थान पर धूम्रपान करने का मामला पुलिस आयुक्त, राकेश कुमार आर्य के संज्ञान में आने पर नियमानुसार कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए, जिस पर उप निरीक्षक आस मोहम्मद का कोटपा, 2003 के अंतर्गत चालान काटा गया है।

धूम्रपान स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है, धूम्रपान न करें। धूम्रपान से हम अपने साथ-साथ अन्य को भी नुकसान पहुंचाते हैं। सार्वजनिक स्थान पर धूम्रपान करना अपराध है सार्वजनिक स्थान पर धूम्रपान करने वालों के विरुद्ध नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी।

देश व प्रदेश में बह रही है विकास की गंगा: मंत्री श्रीमती सीमा त्रिखा

minister-seema-trikha-news-in-hindi


फरीदाबाद, 07 जुलाई। हरियाणा की शिक्षा मंत्री श्रीमती सीमा त्रिखा ने कहा कि पिछले एक दशक में प्रधानमंत्री मोदी के मजबूत विकासोन्मुखी शासन ने पूरे देश में प्रगति के मार्ग को प्रशस्त किया है। हरियाणा की शिक्षा मंत्री श्रीमती सीमा त्रिखा ने आज गांव अनखीर में इंटरलॉकिंग टाइल लगने के कार्य का शुभारंभ स्थानीय निवासियों एवं महिलाओं से करवाया। उन्होंने कहा कि लगभग 18 लाख रुपये की लागत से लगने वाली इंटरलॉकिंग टाइल के कार्य को जल्द से जल्द पूरा किया जाएगा।

सीमा त्रिखा ने उपस्थित लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा कि बड़खल विधान सभा क्षेत्र में लोगों को बिजली, पेयजल सप्लाई से जुड़ी लाइनों और सिवरेज व्यव्स्था तथा पार्को के सौन्दर्य करण सहित तमाम मूलभूत सुविधाएं मुहैया करवाई जा रही है। उन्होंने कहाकि भाजपा सरकार क्षेत्र के विकास के लिये हमेशा वचनबद्ध है और इसी उद्देश्य से सरकार द्वारा बिना किसी भेदभाव के देश व प्रदेश में विकास की गंगा बह रही है। विकास एक निरंतर प्रक्रिया है जो हमेशा जारी रहेगी। विकास कार्यों के लिए धन की कमी आड़े नहीं आने दी जाएगी।

उन्होंने मुख्यमंत्री नायब सिंह सैनी और केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर का धन्यवाद किया और कहाकि बड़खल विधान सभा क्षेत्र में विकास कार्यों की कमी नहीं रहने दी जायेगी। जितने भी विकास कार्य बड़खल विधान सभा क्षेत्र में चल रहे है उनको अतिशीघ्र पूरा करवाया जाएगा।

इस अवसर सत्येन्द्र पांडे, कपिल शर्मा , भजन लाल, अवनीश द्विवेदी, हरीश गोला, चमन गर्ग, विपिन तंवर ,रविंद्र बिधूड़ी, संजय बिधूड़ी, कृष्ण तंवर, शीश पाल तंवर, बक्शी पंडित, राजन पंडित, धनीराम, बाबूलाल, दिव्या गर्ग। सिंह राज नेता, महेंद्र तंवर, बिशम्बर तंवर, करतार तंवर, मोमी तंवर सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।

वाहन चुराकर 18 साल से फरार चल रहे शाकिर को फरीदाबाद पुलिस ने किया गिरफ्तार

faridabad-police-arrested-sakir


फरीदाबाद- पुलिस उपयुक्त अपराध हेमेंद्र कुमार मीणा के द्वारा शहर में अपराध में शामिल आरोपियों की धर-पकड़ के दिए गए दिशा निर्देशानुसार कार्रवाई करते हुए वाहन चोरी निरोधक शाखा सिकरोना की टीम ने वर्ष 2006 से वाहन चोरी के मुकदमे में फरार चल रहे आरोपी को गिरफ्तार किया है।

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी साकिर निवासी गांव दुरेची पलवल का रहने वाला है। आरोपी को अपराध शाखा टीम ने अपने गुप्त सूत्रों से प्राप्त सूचना से नीलम चौक से गिरफ्तार किया है। आरोपी ने वर्ष 2006 में एक मोटरसाइकिल चोरी करने की वारदात को अंजाम दिया था। जिसका मुकदमा थाना कोतवाली में दर्ज था। आरोपी लगातार फरार चल रहा था। आरोपी के खिलाफ PO का मुकदमा दर्ज किया गया था। आरोपी ड्राइवरी का काम करता है। आरोपी को पूछताछ के बाद अदालत में पेश कर जेल भेजा गया।