Followers

Showing posts with label Faridabad Police. Show all posts

OYO होटल में पहुंची फरीदाबाद पुलिस, जानें क्यों?

faridabad-police-visit-in-oyo-hotel

फरीदाबाद-17 मई, डीसीपी सेंट्रल मुकेश मल्होत्रा के द्वारा दिए गए दिशानिर्देशों पर कार्रवाई करते हुए एसीपी सेंट्रल ने अपनी टीम के साथ सेक्टर 12 में स्थित मॉल ,होटल स्पा इत्यादि की चेकिंग की है। पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि हाल मे पंजाब में हुई घटनाओं को देखते हुए एनसीआर एरिया में सतर्कता बढ़ाई गई है। जिसके चलते फरीदाबाद पुलिस ने भी पुलिस आयुक्त विकास कुमार अरोड़ा के द्वारा दिए गए आदेशो पर सभी एसीपी, थाना प्रबंधक द्वारा एरिया के मौजीज व्यक्ति, RWA प्रधान इत्यादि को सुरक्षा की दृष्टि से अगाह किया जा रहा है कि अपने एरिया के किरायेदारों, ड्राइवर, सहायक, मेड, इंत्यादी व्यक्ति जो उनके एरिया में रहते हैं की वेरिफिकेशन कराएं। बाहरी, अजनबी एवं संदिग्ध व्यक्तियों के बारे में पुलिस को दे।

आज सर्च अभियान के तहत एसीपी सेंट्रल  के नेतृत्व में सेक्टर 12 के एरिया में आने वाले ओयो होटल, स्पा सैंटरो को चेक किया और सुरक्षा के नियमों के बारे में अवगत कराया और हिदायत दी कि किसी भी संदिग्ध व्यक्ति की सूचना मिलते ही पुलिस को उसके बारे में सूचित करें। ताथ ओयो में के एरिया में निगरानी के लिए सी.सी.टी.वी. कैमरे लगे होने के साथ साथ आने जाने वालो की आईडी के साथ एंट्री होनी चाहिए और रजिस्टर तारीख वाइज मेंटेन होना चाहिए। 

संस्थाओं के मैनेजमेंट को अपने पास कार्य करने वाले सभी कर्मचारियों की पुलिस वेरिफिकेशन के सख्त निर्देश दिए हैं।

महंगी पड़ी अवैध हथियारों की शौक, क्राइम ब्रांच DLF ने आरोपी को किया गिरफ्तार

crime-branch-dlf-arrested-1-accused

फरीदाबाद- डीसीपी क्राइम नरेन्द्र कादयान के द्वारा अपराध पर अंकुश लगाने के लिए दिए गए दिशा निर्देश पर कार्रवाई करते हुए क्राइम ब्रांच डीएलएफ टीम ने अवैध हथियार रखने वाले आरोपी को गिरफ्तार किया है।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने जानकारी देते हुए बताया की आरोपी बोबी स्थाई रुप से उत्तर प्रदेश के बुलन्दशहर जिले के शैदपुरा गांव का रहने वाला है। आरोपी अस्थाई रुप से सूर्य बिहार पल्ला में रहता है। आरोपी को क्राइम ब्रांच टीम ने गुप्त सूत्रों से प्राप्त सूचना के आधार पर पल्ला धीरज नगर से काबू किया है। आरोपी की तलाशी करने पर देसी कट्टे के साथ जिंदा रोंद बरामद हुआ है। आरोपी को थाना पल्ला में ले जाकर आरोपी के खिलाफ अवैध हथियार रखने की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। 

पूछताछ में सामने आया कि आरोपी अपने गांव गया था वहां से आते समय उसकी एक व्यक्ति से मुलाकात हुई जिससे एक देसी कट्टे के साथ जिंदा रोंद 7000/-रु में अपने शौक के लिए खरीद कर लाया था। आरोपी पर दिल्ली और फरीदाबाद में चोरी, स्नैचिंग और अवैध हथियार के मामले दर्ज है। आरोपी को पूछताछ के बाद अदालत में पेश कर जेल भेज दिया गया है।

CBI की धौंस दिखाकर आरोपी ने की फरीदाबाद पुलिस से मारपीट, तीन गिरफ्तार


faridabad-police-arrested-cbi-Inspector-who-assaulted

फरीदाबाद- मई 15 की रात करीब 10.20 बजे पर पुलिस कंट्रोल रुम से इआरबी टीम को सूचना प्राप्त हुई की एसआरएस रॉयल हिल्स सेक्टर-87 फरीदाबाद के मेन गेट पर 3 आदमी और 2 औरत शराब पीकर सिक्योरिटी गार्डों के साथ झगड़ा कर रहे हैं। सूचना पर एसआई कृष्ण कुमार अपनी टीम के साथ इआरबी 0184 को लेकर मौके पर पहूंचे। जहां 3 आदमी और 2 औरत सिक्योरिटी के साथ झगडा करते हुए मिले। 

पुलिस टीम ने आरोपियो को समझाने की कोशिश की तो आरोपियो ने पुलिस टीम के साथ भी मारपीट करनी शुरु कर दी। वहां मौजूद लोगों की मदद से लडाई को शांत किया। एसआई कृष्ण की शिकायत पर आरोपियो के खिलाफ संबंधित धाराओं में मामला दर्ज कर लिया गया है। पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने जानकारी बताया कि गिरफ्तार आरोपी वीरेन्द्र उर्फ विक्की फरीदाबाद सेक्टर-15 का रहने वाला है,आरोपी धनंजय उर्फ सप्पू स्थाई रुप से उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले के गांव दोसरस का रहने है तथा आरोपी हाल में फरीदाबाद के सेक्टर-87 के एसआरएस रॉयल हिल्स में किराए पर रहता है। आरोपी आशीष उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर जिले के गांव अख्तियारपुर खुर्जा का रहने वाला है। 

आरोपी धनंजय अपने परिवार के साथ के सेक्टर-87 के एसआरएस रॉयल हिल्स में रहता है। आरोपी धनंजय और वीरेन्द्र आरोपी आशीष के जीजा है। पांचों आरोपी धनंजय के घर आए हुए थे। पांचो आरोपी सिक्योरिटी गार्ड के द्वारा गेट पर शराब न पीने की बात कहने पर झगड़ने लगे मौके पर सिक्योरिटी सुपरवाईजर सुनिल कुमार भी आए, सुपरवाईजर ने भी गेट पर शराब पीने से मना किया तो उसके साथ भी झगडा करने लगे। 

सुपरवाईजर ने पुलिस कंट्रोल रुम को कॉल कर सूचना दी। मौके पर पुलिस पहूंची तो पुलिस के द्वारा आरोपियो को समझाया तो आरोपी पुलिस के साथ भी गाली-गलोच और मार पीट करनी शुरु कर दी। घटना की सूचना मिलने पर थाना भूपानी एसएचओ अपनी टीम के साथ मौके पर आए। तीनो आरोपियों को सेक्टर-87 के एसआरएस रॉयल हिल्स से काबू कर लिया है। दोनो महिला को जल्द किया जाएगा गिरफ्तार। 

पूछताछ में सामने आया कि आरोपी आशीष दिल्ली सीबीआई में पोस्टेड है। जो अपने जीजा के घर सेक्टर-87 में आया था। आरोपी धनंजय की मोबाईल की दूकान थी। जो अब नौकरी की तलाश में था। आरोपी विरेन्द्र मशीनों का इम्पोर्ट एक्सपोर्ट का काम करता है। 

घरवाले फंक्शन में गए हुए थे, चोरों ने घर में डाल दिया डांका, क्राइम ब्रांच DLF ने दबोचा

crime-branch-arrested-2-accused

फरीदाबाद- डीसीपी क्राइम नरेंद्र कादियान के द्वारा दिए गए दिशा-निर्देशों पर कार्रवाई करते हुए क्राइम ब्रांच डीएलएफ प्रभारी इंस्पेक्टर योगवेन्द्र की टीम ने दो अलग-अलग मामलों में चोरी के दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि आरोपी गोविंदा स्थाई रूप से पलवल के गांव पांचरी का रहने वाला है अस्थाई रूप से फरीदाबाद के गौच्छी गांव का रहने वाला है। 

आरोपी को थाना खेड़ी पुल के मोटरसाइकिल चोरी के मामले में एत्मादपुर से गिरफ्तार किया गया है, आरोपी से चोरी की गई मोटरसाइकिल बरामद कर ली गई है। और आरोपी संदेश फरीदाबाद के गांव पल्ला की सरस्वती कॉलोनी का रहने वाला है। आरोपी ने गांव तिलपत की कॉलोनी के एक घर में चोरी की वारदात को अंजाम दिया था। आरोपी से 5 जोडी चुटकी चांदी,एक होम थेटर 2 स्पीकर बरामद किए गए हैं। चोरी के समय घरवाले किसी फंक्शन में गए हुए थे। आरोपी को पल्ला थाना के क्षेत्र से गिरफ्तार किया है।

आरोपी संदेश ने बताया कि चोरी की वारदात में दो अन्य साथी और शामिल थे जिसमें से एक आरोपी। दूसरा आरोपी आबिद उर्फ लल्ला किसी अन्य मामले में नीमका जेल में बंद है। जिसे कल प्रोडक्शन वारंट पर लिया जाएगा। तीसरे आरोपी को गिरफ्तारी के लिए क्राइम ब्रांच टीम लगातार रेड कर रही है। जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार किया जाएगा। आरोपी गोविंद को पूछताछ के बाद जेल भेज दिया गया है और आरोपी संदेश से पूछताछ जारी है पूछताछ के बाद अदालत में पेश किया जाएगा।

दिल्ली से फरीदाबाद में गांजा सप्लाई करने आये अवैध नशा तस्कर को फरीदाबाद पुलिस ने किया गिरफ्तार

faridabad-police-arrested-ganja-supplier

डीसीपी क्राइम नरेंद्र कादयान के द्वारा शहर में अपराध पर अंकुश लगाने के लिए अपराधियों की धरपकड़ के दिए गए दिशा-निर्देशों पर कार्रवाई करते हुए क्राइम ब्रांच सेक्टर 17 की टीम ने दिल्ली से फरीदाबाद में गांजा सप्लाई करने आए आरोपी को काबू किया है। पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि गिरफ्तार आरोपी विपिन कुमार स्थाई रूप से बिहार के छपरा जिले के गांव कमालपुर का रहने वाला है। आरोपी अस्थाई रूप से दिल्ली के सरिता विहार में रेलवे लाइन के पास बसी हुई झुग्गियों का रहने वाला है।  

आरोपी ऑटो चलाने का काम करता है। क्राइम ब्रांच टीम ने गुप्त सूत्रों से प्राप्त सूचना के आधार पर आरोपी को फरीदाबाद के सेक्टर 31 बाईपास रोड के पास से अवैध गांजा सहित काबू किया है। आरोपी से मौके पर 4.990 kg गांजा बरामद हुआ है। आरोपी को थाना सेक्टर 31 में ले जाकर अवैध नशा तस्करी की धाराओं में आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

आरोपी से पूछताछ में सामने आया कि आरोपी फरीदाबाद में गांजा पत्ती सप्लाई करने के लिए आया था। आरोपी गांजे को 5500/- रुपए प्रति किलोग्राम के हिसाब से सरिता विहार में बसी हुई रेलवे लाइन के पास झुग्गियों में किसी व्यक्ति से खरीद कर लाया था। आरोपी कम समय में अधिक पैसे कमाने के लालच में गांजा पत्ती बेचने का काम करता है। आरोपी के खिलाफ गाजियाबाद में भी एक अवैध नशा तस्करी का मामला दर्ज है। आरोपी को अदालत में पेश कर पूछताछ के लिए 1 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है। आरोपी को पूछताछ के बाद अदालत में पेश किया जाएगा।

माँ-बाप की ह्त्या करने वाले बेटे को फरीदाबाद पुलिस ने किया गिरफ्तार, आरोपी ने बताई हत्या की वजह

faridabad-police-arrested-the-accused-of-killing-parents

माँ-बाप की ह्त्या करने वाले हत्यारे बेटे को फरीदाबाद पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है, गौरतलब है कि 12 तारीख की रात को भारत कॉलोनी हनुमान नगर गली नंबर 5 में रहने वाले बुजुर्ग दम्पति बीर सिंह (70 वर्ष) व पत्नि चम्पा (62 वर्ष) की हत्या उनके पुत्र जीतू उर्फ जितेंद्र (38 साल) के द्वारा की गई थी. माँ-बाप की ह्त्या करके आरोपी फरार हो गया था. इस खबर को जिसने भी सुना, उसका कलेजा काँप उठा, किसी को यकीन नहीं हो रहा था कि ऐसा भी हो सकता है. वारदात के लगभग 48 घंटे के भीतर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

मृतक दम्पत्ति के दामाद सुरेंद्र सिंह की शिकायत पर आरोपी जीतू उर्फ जितेंद्र के खिलाफ हत्या की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया था, आरोपी की धरपकड़ के लिए खेड़ी पुल थाने के SHO सुभाष कुमार ने एक टीम गठित की, 15 घण्टे के अंदर खेड़ी पुल थाने के सब इंस्पेक्टर सुनील कुमार ,हेड कांस्टेबल अजीत कुमार, हेड कांस्टेबल तिलक कुमार, हेड कांस्टेबल सुरेंद्र कुमार की टीम ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस ने बल्लभगढ़ से युवक की गिरफ़्तारी की, पूछताछ में आरोपी ने बताया कि नशे की आदि होने के कारण नशा करने के लिए चाहिए था पैसा। माँ-बाप से पैसे मांगे जब माँ बाप ने पैसे नही दिए तो गुस्से में आकर झगड़ा किया और फिर उसके बाद ह्त्या का प्लान बनाया, रात में प्लान को अंजाम दे दिया, पुलिस के मुताबिक़, माँ-बाप की ह्त्या करने के बाद आरोपी प्रॉपर्टी बेंचना चाहता था.

मृतक वीर सिंह कुछ साल पहले ही हुड्डा डिपार्टमेंट में जेई पद से रिटायर हुए थे, उन्हें लगभग 30 हजार रूपये पेंशन मिलती थी, घर के कुछ कमरे किराये पर दे रखे थे, लगभग 40 हजार के आसपास हर महीनें किराया आता था. मृतक दंपत्ति के दामाद सुरेंद्र के अनुसार आरोपी जीतू शादी शुदा है। आरोपी का तलाक हो चुका है। आरोपी शराब पीने का आदी है। आरोपी अक्सर अपने माता-पिता से लड़ाई झगड़ा कर मारपीट करता रहता था।

खुद को क्राइम ब्रांच का अधिकारी बताकर लूटपाट करने वाला कुख्यात आरोपी चढ़ा फरीदाबाद पुलिस के हत्थे

faridabad-police-arrested-1-criminal

फरीदाबाद-  डीसीपी नरेंद्र कादयान द्वारा अपराधिक मामलों में संलिप्त अपराधियों की धरपकड़ के दिए गए दिशा निर्देश के तहत कार्रवाई करते हुए क्राइम ब्रांच 65 प्रभारी ब्रह्म प्रकाश की टीम ने स्नैचिंग करने वाले आरोपी को गिरफ्तार किया है।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि गिरफ्तार अजय उर्फ राहुल स्थाई रुप से उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले के मिश्रकापूरा गांव का तथा अस्थाई रुप से दिल्ली के मयूर विहार का रहने वाला है। आरोपी ने बीपीटीपी के सेक्टर-75 में 23 जुलाई को एक स्कूटी स्नैचिंग की घटना को अपने अन्य दो साथियों के साथ मिलकर अंजाम दिया था। जिसका मुकदमा थाना बीपीटीपी में स्नैचिंग की धाराओं में दर्ज है। स्नैचिंग की गई स्कूटी पहले ही बरामद की जा चुकी है। 

पूछताछ में पता चला की आरोपी ने उत्तर प्रदेश के में कई स्नैचिंग की वारदातों को अंजाम दिया है। आरोपी ने हाल ही में उत्तर प्रदेश के रघुपुरा थाने के एरिया में पुलिस के साथ मुठभेड की थी जिसमें आरोपी के पैर में गोली गली थी जिसे उत्तर प्रदेश पुलिस ने काबू कर लिया था। आरोपी को क्राइम ब्रांच टीम ने प्रोडक्शन वारंट पर लेकर 2 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया है। आरोपी अपने साथियों के साथ मिलकर अपने आप को क्राइम ब्रांच का अधिकारी बताकर लूटपाट की वारदातों को अंजाम देते है। आरोपी ने अपने अन्य दो साथियों के बारे में खुलासा किया है। क्राइम ब्रांच दोनों आरोपियो को गिरफ्तार करने के लिए रेड कर रही है। जिन्हे जल्द  गिरफ्तार किया जाएगा।

बंदूक की नोक पर बंधक बनाकर चौकीदार से लूटपाट करने वाले आरोपी को क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार

crime-branch-arrested-1-accused-news-in-hindi

फरीदाबाद-डीसीपी क्राइम नरेंद्र कादयान के द्वारा शहर में अपराध पर अंकुश लगाने के दिए गए दिशा-निर्देशों पर कार्यवाही करते हुए गांव भनकपुर की वाटर सप्लाई से वाटर सप्लाई के चौकीदार को बंधक बनाकर ट्रांसफार्मर से कॉपर और पैसे लूट के आरोपी को क्राइम ब्रांच सेक्टर 56 प्रभारी इंस्पेक्टर राकेश कुमार की टीम ने गिरफ्तार किया है।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि आरोपी अजय पलवल के गांव बबरिया मोहल्ला का रहने वाला है। आरोपी ने अपने साथियों के साथ मिलकर स्कॉर्पियो गाड़ी और देसी कट्टा के दम पर 25 अप्रैल की रात को लूट की वारदात को अंजाम दिया था। चौकीदार की शिकायत पर थाना सेक्टर 58 में लूट, डकैती और अवैध हथियार की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया था। आरोपी को क्राइम ब्रांच टीम ने गुप्त सूत्रों से प्राप्त सूचना के आधार पर फरीदाबाद के सेक्टर-12 से गिरफ्तार किया है।

पूछताछ में सामने आया कि  आरोप ने अपने साथियों के साथ मिलकर 25 अप्रैल की रात को गांव भनकपुर से खदावली रोड पर बने सरकारी पानी के बूस्टर पर चौकीदार और उसके पिता को बंधक बनाकर देसी कट्टे के दम पर ट्रांसफार्मर से कॉपर और चौकीदार से 5500/-लूटने की वारदात को अंजाम दिया था। आरोपी ने पलवल में भी कई वारदातों को अंजाम दिया है।

क्राइम ब्रांच टीम ने आरोपी से बरामद की और पूछताछ के लिए अदालत में पेश कर पुलिस रिमांड पर लिया था। पूछताछ करने के बाद आरोपी को अदालत में पेश कर जेल भेज दिया गया है।


सरेराह कर लिया शाहरुख का अपहरण, मांगी 50 हजार की फिरौती, क्राइम ब्रांच ने 3 आरोपियों को दबोचा

crime-branch-arrested-3-accused

फरीदाबाद: डीसीपी नरेंद्र कादयान द्वारा अपहरण के मामलों में संलिप्त अपराधियों को जल्द से जल्द धरपकड़ करने के दिशा निर्देश के तहत कार्रवाई करते हुए क्राइम ब्रांच 65 प्रभारी ब्रह्म प्रकाश की टीम ने अपहरण कर फिरौती मांगने के मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है।पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि गिरफ्तार किए गए आरोपियों में मनजीत, धर्मेंद्र तथा परमवीर का नाम शामिल है। तीनों आरोपी पलवल के रहने वाले हैं जिसमें से आरोपी मनजीत और परमवीर एक ही गांव छपरोला के निवासी हैं। 

आरोपी नशेड़ी किस्म के व्यक्ति हैं। नशे की आपूर्ति के लिए आरोपियों ने दिनांक 2-3 मई की रात फरीदाबाद के सेक्टर 62 स्थित आशियाना फ्लैट के पास से राह चलते एक शाहरुख नाम के व्यक्ति को हथियार के बल पर अपहरण करके अपनी गाड़ी में बिठा लिया और रास्ते में ले जाते समय उसके साथ मारपीट की व जान से मारने की धमकी देते हुए उससे ₹50000 की फिरौती मांगी। पीड़ित शाहरुख ने बताया कि वह यहां पर पैसे नहीं मंगवा सकता। 

शाहरुख ने पैसों के लिए अपने दोस्त नाजिम को फोन किया तो नाजिम ने कहा कि वह पैसे लेकर वहां पर नहीं आ सकता, पैसे लेने के लिए उन्हें आशियाना फ्लैट आना पड़ेगा। आरोपी शाहरुख के दोस्त नाजिम से आशियाना फ्लैट जाकर पैसे लेने के लिए राजी हो गए और वह शाहरुख को लेकर वापिस आशियाना सोसायटी के अंदर आ गए जहां शाहरुख ने अपने दोस्त नाजिम को पैसे लेकर वहां पर आने के लिए कहा था। 

आरोपियों में से आरोपी मंजीत गाड़ी से उतरकर नाजिम से पैसे लेने गया तो शाहरुख ने गाड़ी से झांककर देखा कि उसके दोस्त नाजिम के साथ चार पांच व्यक्ति और खड़े हुए हैं और वह शोर मचाकर उन्हें वहां उसे छुड़वाने के लिए बुला सकता है इसलिए उसने नाजिम व अपने अन्य दोस्तों का नाम लेकर शोर मचा दिया जिससे आरोपी डर गए और आरोपी मंजीत भागकर वापस गाड़ी में बैठ गया। शोर मचाने की वजह से नाजिम और उसके दोस्तों को शक हो गया और वह गाड़ी में बैठे अपने दोस्त शाहरुख को बचाने के लिए भागे। 

पीड़ित के दोस्तों ने आशियाना सोसायटी के गेट बंद कर दिए तथा गाड़ी पर पथराव करना शुरू कर दिया। आरोपी गाड़ी को लेकर आशियाना फ्लैट के इर्द गिर्द घूमते रहे। पथराव करने की वजह से आरोपी धर्मेंद्र के चोट लग गई और अंततः नाजिम अपने दोस्त शाहरुख को आरोपियों के चंगुल से छुड़ाने में सफल हो गए वहीं आरोपी सोसाइटी की गेट को टक्कर मारकर वहां से भागने में कामयाब हो गए। शाहरुख ने इसकी शिकायत पुलिस थाना आदर्श नगर में की जिसके पश्चात आरोपियों की धरपकड़ के लिए उनके खिलाफ अपहरण, स्नैचिंग तथा अवैध हथियार की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज करके उनकी तलाश शुरू की गई। 

क्राइम ब्रांच 65 की टीम ने इस मामले में आगे की कार्यवाही करते हुए गुप्त सूत्रों व तकनीकी की सहायता से मामले में शामिल तीनों आरोपियों को कल पलवल से गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों के कब्जे से वारदात में प्रयोग कार, पिस्टल तथा मोबाइल फोन बरामद किया गया है। पुलिस पूछताछ में सामने आया कि आरोपी परमवीर धर्मेंद्र तथा मनजीत की उम्र क्रमशः 28, 25 तथा 19 वर्ष है। आरोपियों ने बताया कि वह नशा करने के आदि है और नशा की आपूर्ति के लिए ही उन्होंने शाहरुख को किडनैप किया था। उन्होंने राह चलते किसी भी व्यक्ति का अपहरण करके फिरौती मांगने का प्लान बनाया था। वह शाहरुख को पहले से नहीं जानते थे। पूछताछ पूरी होने के पश्चात तीनों आरोपियों को अदालत में पेश करके जेल भेज दिया गया है।

Faridabad: फांसी के फंदे पर लटकता मिला 3 बच्चों की माँ का शव, पति समेत कई लोगों पर हत्या का केस दर्ज

dead-body-of-mother-of-3-children-found-hanging-on-the-noose
Demo pic

फरीदाबाद। पुलिस थाना डबुआ के गाजीपुर एरिया में कल दोपहर करीब 1:00 बजे एक 36 वर्षीय महिला ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस थाना डबुआ द्वारा महिला के मायके पक्ष की तरफ से दी गई शिकायत के आधार पर महिला के पति, उसके दो भाई तथा चाचा के खिलाफ हत्या की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज करके जांच शुरू कर दी है।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि मथुरा की रहने वाली महिला का विवाह करीब 18 वर्ष पहले गाजीपुर के रहने वाले धर्मबीर के साथ हुआ था। उनके तीन बच्चे दो लड़के और एक लड़की है। धर्मबीर गाजीपुर रोड पर स्थित एक कंपनी में काम करता है। जिस वक्त महिला ने आत्महत्या की उस वक्त घर पर सिर्फ बच्चे थे। 

सूचना मिलते ही पुलिस तुरंत मौके पर पहुंची और एसीपी सुखबीर, थाना प्रभारी श्री भगवान तथा उनकी टीम ने मौके पर पहुंचकर मौका मुआयना किया और एफएसएल की टीम द्वारा घटनास्थल से साक्ष्य एकत्रित करके डेड बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए बीके अस्पताल भेजा था। महिला के मायके पक्ष के परिजनों ने इल्जाम लगाया कि उनकी बेटी के पति धर्मबीर, उसके दो भाई कुंवर पाल व विनोद तथा उनके चाचा महावीर ने उनकी बेटी की हत्या करके उसे फांसी पर लटकाया है। 

पुलिस द्वारा शव का पोस्टमार्टम  करवाकर उसके माता-पिता के हवाले कर दिया गया है। शिकायत के अनुसार थाने में हत्या की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज करके जांच शुरू की गई। प्राथमिक जांच में यह भी सामने आया कि महिला डिप्रेशन में थी। इस मामले में कानूनी कार्रवाई जारी है.

रात में प्लास्टिक के थैले में ₹50 लाख कैश लेकर घूम रहा था व्यक्ति, पुलिस ने पकड़ा, जानिये पूरा मामला

faridabad-police-catch-1-person-with-50-lakh-cash

फरीदाबाद: पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि रात करीब 3 बजे सै०16 में ERV 203 मे तैनात इंचार्ज बलवान सिंह स्टाफ विक्रांत और सुमित को एक व्यक्ति प्लास्टिक का कटा हाथ में लिए संदिग्ध घूमता मिला। पुलिसकर्मियों ने जब उस व्यक्ति से देर रात बहार घुमने बारे पूछताछ की तो वह कोई भी संतोषजनक जवाब नहीं दे पाया जिसके पश्चात पुलिस टीम ने पूछा की कटटे मे क्या है तब भी सही जबाब नही दिया, चेक किया तो कटटे मे रखी 2 पॉलिथीन  रूपयो से भरी थी। 

सुचना पाकर तुरन्त मौके पर चौकी इंचार्ज सेक्टर 16 व थाना प्रबंधक सेक्टर 17 आए। रुपयो के बारे में उच्च अधिकारियों को सूचित किया गया। जिनकी गिनती की गई तो 50 लाख रुपए पाए गए। इतने रुपयों के बारे में व्यक्ति से पूछताछ की गई तो कोई संतोषजनक जवाब नहीं दे पाया ।पुलिस के उच्च अधिकारियों के निर्देश अनुसार आयकर विभाग को सूचित किया गया। 

पूछताछ करने के लिए इनकम टैक्स के अधिकारियों को मौके पर बुलाया गया और व्यक्ति को आयकर विभाग के अधिकारियों के सुपुर्द किया गया। 50 लाख रुपए माल खाना में जमा कराए गए ।इनकम टैक्स अधिकारियों द्वारा व्यक्ति से पूछताछ की गई जिसमें उसने पैसे देने वाले व्यक्ति के बारे में जानकारी दी। व्यक्ति की स्टेटमेंट रिकार्ड की ग्ई है।  व्यक्ति द्वारा दी गई स्टेटमेंट के अनुसार मामले में शामिल अन्य व्यक्तियो को नोटिस दिया गया है तथा आरोपी पाए जाने पर उनके खिलाफ कानून के तहत कार्रवाई की जाएगी।

अवैध शराब तस्करी करने वाले 3 आरोपियो को फरीदाबाद पुलिस ने किया गिरफ्तार, भारी मात्रा में शराब बरामद

faridabad-police-arrested-3-accused-of-smuggling-illegal-wine

फरीदाबाद- डीसीपी क्राइम नरेन्द्र कादयान के द्वारा अपराधियों की धर-पकड़ के दिए गए दिशा निर्देशों पर कार्रवाई करते हुए क्राइम ब्रांच बदरपुर बॉर्डर इंचार्ज इंस्पेक्टर सेठी मलिक की टीम ने अवैध शराब तस्करी करने वाले तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि गिरफ्तार आरोपी सुनील दिल्ली के ओखला फेस-2, का आरोपी राहुल फरीदाबाद के दीपावली एनक्लेव इस्माइलपुर का, आरोपी रंजीत दिल्ली के लीला गार्डन का रहने वाला है। 

तीनों आरोपियों को क्राइम ब्रांच टीम ने गुप्त सूत्रों से प्राप्त सूचना के आधार पर थाना सराय ख्वाजा के एरिया सेक्टर-37 सीएनजी पम्प से काबू किया है। आरोपियों की तलाशी के बाद आरोपियों से 7 बैगों में 60 बोतल इंग्लिश मार्केट इंपीरियल ब्लू ,70 बोतल इंग्लिश मार्क रॉयल ग्रीन, 96 बोतल इंग्लिश मार्क रॉयल चैलेंजर के साथ वारदात में प्रयोग गाड़ी अर्टिगा  बरामद की गई है। आरोपियो के खिलाफ थाना सराय ख्वाजा में अवैध शराब तस्करी करने की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

पूछताछ में सामने आया कि आरोपी रंजीत गाड़ी धुलाई की दुकान पर काम करता है। आरोपी राहुल मजदूरी करता है। आरोपी सुनील टैक्सी चलाता है। आरोपी रंजीत और राहुल ने सुनील की टैक्सी को बुक कर लिया और तीनों आरोपियों ने मिलकर अवैध शराब 28/29 के चौक से किसी व्यक्ति से ली और गाडी में लोड कर दिल्ली ले जा रहे थे। तीनों आरोपियों को अदालत में पेश कर नियमानुसार कानूनी कार्रवाई की गई।

बीटेक करने के बाद नौकरी की तलाश में आये युवक ने उठाया गलत कदम, क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार

crime-branch-arrested-b-tech-smack-smuggler

फरीदाबाद: डीसीपी क्राइम नरेंद्र कादयान द्वारा नशा तस्करी पर अंकुश लगाने के लिए इसमें संलिप्त आरोपियों की धरपकड़ के दिशा निर्देश के तहत कार्रवाई करते हुए क्राइम ब्रांच डीएलएफ की टीम ने एक स्मैक तस्कर को गिरफ्तार किया है। पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि गिरफ्तार किए गए आरोपी का नाम अनुज है जो बिहार के मधुबनी जिले के क्योरा गांव का रहने वाला है। 

क्राइम ब्रांच की टीम ने गुप्त सूत्रों की सूचना के आधार पर आरोपी को पुलिस थाना सराय एरिया से स्मैक सहित काबू किया। तलाशी लेने पर आरोपी के कब्जे से 230 ग्राम स्मैक बरामद की गई। आरोपी को काबू करके थाने लाया गया जहां उसके खिलाफ एनडीपीएस एक्ट की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज करके पूछताछ शुरू की। पुलिस पूछताछ में 25 वर्षीय आरोपी ने बताया कि वह वर्ष 2014 से 2017 तक गुरुग्राम में अपनी बीटेक की पढ़ाई की थी। 

तीन-चार दिन पहले आरोपी नौकरी की तलाश में गुड़गांव आया था। आरोपी ने बताया कि यह स्मैक उसे किसी व्यक्ति ने दी थी और उसे फरीदाबाद में सप्लाई करने के लिए भेजा था। आरोपी को अदालत में पेश करके रिमांड पर लिया जाएगा और उसे स्मैक सप्लाई करने वाले आरोपी के बारे में गहनता से पूछताछ करके उसकी धरपकड़ की जाएगी। 


सिर में बीयर की बोतल मारकर की थी हत्या, क्राइम ब्रांच DLF ने चौथे आरोपी को किया गिरफ्तार

crime-branch-dlf-arrested-murder-accused

फरीदाबादः डीसीपी क्राइम नरेन्द्र कादियान के द्वारा शहर में अपराध पर अंकुश लगाने के दिए गए दिशा निर्देशों पर कार्रवाई करते हुए क्राइम ब्रांच प्रभारी योगिन्द्र की टीम ने एक महीने पहले के हत्या के मुकदमे में चौथे आरोपी को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है। पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि गिरफ्तार किए गए आरोपी का नाम सागर उर्फ बच्चा है जो फरीदाबाद की भारत कॉलोनी का निवासी है। 

मृत्क लडका 18 वर्षीय हिमांशु स्थाई रुप से मध्य प्रदेश के बसैया जिले के गांव खेडा का रहने वाला है जो फिलहाल फरीदाबाद के बजीरपुर रोड के पास रहता था। हिमांशु कार वॉशिंग का काम करता था। वह 9 अप्रैल 2022 को शाम के समय किसी काम से मार्किट में गया था। परशुराम चौक पर सामान लेते समय हिमांशु की आरोपी बादल से किसी बात को लेकर कहा-सुनी हो गई थी। आरोपी बादल ने शराब पी रहे अपने साथियों को फोन कर बुला लिया और हिमांशु को अपने साथियों के साथ मिलकर मारपीट की और बीयर की बोतल सिर में मारी जिसे हिमांशु बेहोश होकर जमीन पर गिर गया। वारदात को अंजाम देने के पश्चात आरोपी मौके से फरार हो गए थे। 

हिमांशु को पास के जनक अस्पताल में भर्ती कराया गया। जिसे वहां से सर्वोदय अस्पताल में रेफर कर दिया जहां से सफदरजंग अस्पताल रेफर कर दिया गया। हिमांशु का इलाज करके दवाई देकर घर भेज दिया गया।इसके पश्चात हिमांशु की 17 अप्रैल को अचानक तबियत खराब हो गई थी। जिसे अस्पताल ले जाते समय उसकी मृत्यु हो गई थी। मृतक हिमांशु के पिता की शिकायत पर दिनांक 17 अप्रैल को आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करके उनकी तलाश शुरू की गई।क्राइम ब्रांच टीम द्वारा इस मामले में त्वरित कार्यवाही करते हुए गुप्त सूत्रों से प्राप्त सूचना के आधार पर मामले में शामिल आरोपी बादल, गुलशन उर्फ गुलू और मोनू उर्फ कलवा को खेडी पुल सब्जी मंडी से गिरफ्तार कर लिया था। 

आगे की कार्रवाई करते हुए क्राइम ब्रांच की टीम ने 08 अप्रैल को मामले में शामिल चौथे आरोपी सागर को भी गिरफ्तार कर लिया। आरोपी को अदालत में पेश करके 1 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया जिसमें पुलिस पूछताछ में सामने आया कि आरोपी जहां पर पार्टी कर रहे थे वह होटल सागर के नाम पर बुक था और वह अपने साथियों बादल, गुलशन उर्फ गुल्लू, मोनू उर्फ कलवा, महेश तथा मोहित के साथ मिलकर होटल में शराब पी रहा था। आरोपी का साथी बादल कुछ सामान लेने गया था जिसकी सामान लेते समय हिमांशु से किसी बात को लेकर लडाई हो गई थी। आरोपी सागर ने फोन करके अपने दोस्तों को वहां बुलाया और हिमांशु के साथ झगड़ा करना शुरू कर दिया और इसी लड़ाई झगड़े में हिमांशु के सिर में गहरी चोट लगी जिसकी वजह से उसकी मृत्यु हो गई। क्राइम ब्रांच की टीम द्वारा आरोपी के कब्जे से वारदात प्रयोग मोबाइल फोन तथा कपड़े बरामद किए गए हैं। पूछताछ पूरी होने के पश्चात आरोपी को अदालत में दोबारा पेश करके जेल भेज दिया गया है तथा इस मामले में बचे हुए दो आरोपियों महेश और मोहित की पुलिस द्वारा तलाश की जा रही है जिन्हें जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।

11 मई से फ्लाईओवर निर्माण के चलते फरीदाबाद बाईपास बीपीटीपी चौक से बडौली पुल तक रहेगा बंद

faridabad-bypass-bptp-chowk-badoli-will-be-closex

Faridabad News: 11 मई से फ्लाईओवर निर्माण के चलते फरीदाबाद बाईपास बीपीटीपी चौक से बडौली पुल तक बंद रहेगा.

इसके रिहर्सल पूरी करने के 2/3 दिन के बाद पुल निर्माण का कार्य करीब 2 महीने तक चलने की संभावना है इसलिए यात्री इसे ध्यान में रखते हुए ही प्लान करें यात्रा

बल्लबगढ़ की तरफ से फरीदाबाद बाईपास होते हुए दिल्ली जाने वाला ट्रैफिक कोर्ट रोड पर बाएं होकर आगे से दाएं लेकर इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन के आगे से होते हुए सेक्टर 12/15 डिवाइडिंग रोड से दाएं लेकर बीपीटीपी की तरफ बीपीटीपी चौक पहुंचेंगे और बाईपास पर चढ़कर  दिल्ली जा सकेंगे।

दिल्ली से फरीदाबाद बाईपास से होते हुए बल्लभगढ़ जाने वाला ट्रैफिक बीपीटीपी चौक से बाएं लेकर नहर पुल को पार करते हुए वहां से दाएं मुड़ कर पटरी पटरी होते हुए आगे जाकर बडोली पुल पहुंचेंगे जहां से दाएं लेकर पुल पार करके बाईपास पर वापिस चढ़ेंगे।

कृपया सभी वाहन चालक ध्यान दें और अपनी मंजिल तक पहुंचने के लिए एडवाइजरी के मुताबिक अपना अल्टरनेटिंग अपना मार्ग चुने और फरीदाबाद ट्रैफिक पुलिस का सहयोग करें.

Faridabad : उसने मारा ब्लेड तो इसने चाक़ू से हमला कर लिया बदला, क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार

crime-branch-dlf-arrested-1-accused

फरीदाबाद: रात करीब 10:00 बजे सेक्टर 37 एरिया में आरोपियों द्वारा एक व्यक्ति को चाकू मारकर गंभीर रूप से घायल करने के मामले 1 आरोपी को राउंडअप किया है। पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि काबू किए गए आरोपी का नाम आकाश है जो फरीदाबाद के मोलडबंद का रहने वाला है। इस मामले में वारदात का मुख्य आरोपी किशन मौके से फरार हो गया था। 

वारदात रात करीब 10:00 बजे की है जब धीरजनगर के रहने वाले संजीव ठाकुर सेक्टर 37 में गया था, जहां आरोपी किशन तथा आकाश अपने किसी अन्य दोस्त की पार्टी में वहां पर आए हुए थे और दोनो इत्तेफाक से वहां मिल गए। दोनों पक्षों की आपस में किसी वजह से पुरानी रंजिश चल रही थी और इसी रंजिश के चलते आरोपी किशन ने चाकू से संजीव पर हमला कर दिया। 

आरोपी ने संजीव के सिर, आंख और पेट पर तीन चार वार किए जिससे संजीव घायल हो गया। वारदात करने के पश्चात आरोपी मौके से फरार हो गए। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और पीड़ित को बीके अस्पताल पहुंचाया जहां से उसे सफदरजंग रेफर कर दिया गया। अस्पताल में संजीव का इलाज चल रहा है और अब उसकी हालत खतरे से बाहर है। 

पुलिस आयुक्त विकास कुमार अरोड़ा ने इस मामले में आरोपियों की जल्द से जल्द धरपकड़ करने के निर्देश दिए इसके पश्चात डीसीपी क्राइम नरेंद्र कादियान के मार्गदर्शन में क्राइम ब्रांच डीएलएफ प्रभारी की अगुवाई में टीम का गठन किया गया जिसमें मामले में तुरंत कार्रवाई करते हुए इस मामले में शामिल आरोपी आकाश को रात करीब 12:00 बजे, मोलड़बंद से काबू कर लिया। प्राथमिक पूछताछ के दौरान सामने आया कि संजीव किशन आकाश तथा उनके अन्य एक दो दोस्त पहले साथ मिलकर नशा करते थे। फिर नशे की हालत में एक दिन संजीव और किशन का झगड़ा हो गया फिर करीब 1 साल पहले संजीव ने किशन को ब्लेड से हमला करके घायल कर दिया था। किशन इसी रंजिश का बदला लेने के लिए मौके की फिराक में था और कल रात मौका मिलते ही किशन में आकाश के साथ मिलकर संजीव पर हमला कर दिया। क्राइम ब्रांच द्वारा इस मामले में जांच की जा रही है और मामले में फरार आरोपी किशन को जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।

Faridabad: चौकीदार को बंधक बनाकर बंदूक के दम पर लूटपाट करने वाले आरोपी को क्राइम ब्रांच ने दबोचा

crime-branch-arrested-1-accused

फरीदाबाद-डीसीपी क्राइम नरेंद्र कादयान के द्वारा शहर में अपराध पर अंकुश लगाने के दिए गए दिशा-निर्देशों पर कार्यवाही करते हुए गांव भनकपुर की वाटर सप्लाई से वाटर सप्लाई के चौकीदार को बंधक बनाकर ट्रांसफार्मर से कॉपर और ₹5500/- रुपए लूटने वाले आरोपी को क्राइम ब्रांच सेक्टर 56 प्रभारी इंस्पेक्टर राकेश कुमार की टीम ने गिरफ्तार किया है।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि आरोपी वीरेंद्र पलवल के गांव नंगला भीकू का रहने वाला है। आरोपी ने अपने साथियों के साथ मिलकर स्कॉर्पियो गाड़ी और देसी कट्टा के दम पर 25 अप्रैल की रात को लूट की वारदात को अंजाम दिया था। चौकीदार की शिकायत पर थाना सेक्टर 58 में लूट, डकैती और अवैध हथियार की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया था। आरोपी को क्राइम ब्रांच टीम ने गुप्त सूत्रों से प्राप्त सूचना के आधार पर बल्लभगढ़ के सिकरी से गिरफ्तार किया है।

पूछताछ में सामने आया कि आरोपी की परचून की दुकान है। आरोपी ने अपने साथियों के साथ मिलकर 25 अप्रैल की रात को गांव भनकपुर से खदावली रोड पर बने सरकारी पानी के बूस्टर पर चौकीदार और उसके पिता को बंधक बनाकर देसी कट्टे के दम पर ट्रांसफार्मर से कॉपर और चौकीदार से 5500/-लूटने की वारदात को अंजाम दिया था। आरोपी ने पलवल में भी कई वारदातों को अंजाम दिया है।

क्राइम ब्रांच टीम ने आरोपी से बरामद की और पूछताछ के लिए अदालत में पेश कर 2 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया है। पूछताछ करने के बाद आरोपी को अदालत में पेश किया जाएगा।

CIA के हत्थे चढ़े बल्लभगढ़ के 3 सट्टेबाज, IPL में सट्टा खिलाने वाले कालीस, मनोज और सन्दीप गिरफ्तार

crime-branch-arrested-3-bookmaker

फरीदाबाद- डीसीपी नरेंद्र कादयान के द्वारा अपराधियों की धरपकड़ के दिए गए निर्देशों पर कार्रवाई करते हुए क्राइम ब्रांच सेंट्रल प्रभारी इंस्पेक्टर सुरेंद्र सिंह की टीम ने आईपीएल मैच में सट्टा लगाकर खिलाने वाले तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि गिरफ्तार तीनों आरोपी राहुल उर्फ कालीस, मनोज उर्फ सुरज और सन्दीप  बल्लभगढ़ की भगत सिंह कॉलोनी के रहने वाले हैं। 

क्राइम ब्रांच टीम ने गुप्त सूत्रों से प्राप्त सूचना के आधार पर तीनों आरोपियों को थाना सिटी बल्लभगढ़ के क्षेत्र से रेड कर कबू किया है। तीनों आरोपियों से मौके पर तलाशी के दौरान एक लैपटॉप, एलईडी टीवी, 5 मोबाइल फोन के साथ सट्टा पर्ची बरामद किए गए हैं।

आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि आरोपी लखनऊ और कोलकाता के बीच में चल रही मैच पर सट्टा खिला रहे थे। पूछताछ के बाद तीनों आरोपियों के खिलाफ कानून के तहत कार्रवाई अमल में लाई गई है।

फरीदाबाद पुलिस ने भू-माफिया को किया गिरफ्तार, 2 साल से चल रहा था फरार

faridabad-police-arrested-land-mafia

फरीदाबाद: पुलिस आयुक्त विकास कुमार अरोड़ा द्वारा भू माफिया पर नियंत्रण स्थापित करने के लिए दिए गए दिशा निर्देश के तहत कार्रवाई करते हुए पुलिस थाना तिगांव प्रभारी अशोक कुमार की टीम ने वर्ष 2020 के रेता चोरी के मुकदमे में फरार चल रहे एक आरोपी को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि गिरफ्तार किए गए आरोपी का नाम अमित है जो यूपी के मंडिया गांव का रहने वाला है। यह गांव हरियाणा यूपी बॉर्डर पर पड़ता है। 

आरोपी यूपी से रेता चोरी करके फरीदाबाद में सप्लाई करता था। वर्ष 2020 में आरोपी अमित का ड्राइवर आरोपी कुक्की एक हाईवे ट्रक में अवैध रेता भरकर यूपी से फरीदाबाद आ रहा था जिसे तिगांव पुलिस द्वारा गुप्त सूत्रों की सूचना के आधार पर रोका गया परंतु आरोपी अमित अपने साथी पम्मी के साथ मिलकर अपनी गाड़ी लेकर मौके पर पहुंच गया और अपने ट्रक ड्राइवर से बोला कि वह ट्रक लेकर भाग जाए और यदि पुलिस वाले सामने से नहीं हटते तो ट्रक उनके ऊपर  चढ़ा दे, जो होगा देखा जाएगा। इसके पश्चात आरोपी ट्रक ड्राइवर ने वहां पर मौजूद पुलिसकर्मियों पर ट्रक चढ़ाने की कोशिश की। पुलिसकर्मियों ने साइड में हटकर जैसे तैसे अपनी जान बचाई। 

आरोपी ट्रक को लेकर मौके से फरार हो गए। इसके पश्चात उक्त आरोपियों के खिलाफ पुलिस थाना तिगांव में पुलिसकर्मियों पर हमला करने तथा हत्या का प्रयास की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज करके आरोपियों की तलाश शुरू की गई और आगे की कार्रवाई करते हुए तिगांव पुलिस ने आरोपी ड्राइवर कुक्कि को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी के कब्जे से हाइवा ट्रक तथा जेसीबी बरामद की गई थी। इसके पश्चात आरोपी पम्मी तथा अमित इस मामले में कोर्ट से अग्रिम जमानत ले आए। फरीदाबाद पुलिस ने पहले अमित की अग्रिम जमानत रद्द करवाई और उसके पश्चात उसकी तलाश में जुट गई। दिनांक 4 अप्रैल 2022 को आरोपी अमित को गुप्त सूत्रों की सूचना के आधार पर तिगांव बस स्टैंड से गिरफ्तार करके अदालत में पेश किया गया जहां से उसे 2 दिन के पुलिस रिमांड पर लेकर पूछताछ की गई। 

पुलिस पूछताछ में सामने आया कि आरोपी अमित ही इस वारदात का मुख्य आरोपी है और जेसीबी तथा हाईवा आरोपी अमित का ही था। इससे पहले भी आरोपी के खिलाफ रेता चोरी के दो-तीन मुकदमे हैं जिसमें आरोपी गिरफ्तार होने से पहले ही हाई कोर्ट से जमानत ले आता था परंतु इस बार पुलिस द्वारा जमानत रद्द करवाकर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया। पूछताछ के दौरान आरोपी के कब्जे से वारदात में प्रयोग स्विफ्ट गाड़ी बरामद की गई। आरोपी पम्मी के कब्जे से भी एक गाड़ी बरामद की जा चुकी है। पूछताछ पूरी होने के पश्चात आरोपी को अदालत में दोबारा पेश करके जेल भेज दिया गया है।

15 वर्षीय नाबालिंग का अपहरण करने वाले आरोपी को क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार, लडकी बरामद

crime-branch-kat-arrested-1-accused

फरीदाबाद- डीसीपी क्राइम नरेन्द्र कादियान के द्वारा दिए गए दिशा निर्देशों पर कार्रवाई करते हुए क्राइम ब्रांच कैट प्रभारी सब इंस्पेक्टर सरजीत सिंह की टीम ने एक नाबालिंग लडकी को भगाके लेजाने वाले आरोपी को गिरफ्तार कर लडकी को बरामद करने का सराहनीय कार्य किया है। 

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि नाबालिंग लडकी 07 मार्च को आरोपी प्रदीप (19 साल) के साथ घर से बिना बताए कही चली गई थी। जिसकी शिकायात लडकी के परिजनों ने थाना डबुआ में दी जिस पर मुकदमा दर्ज कर लडकी की तलाश की जा रही थी। क्राइम ब्रांच कैट की टीम ने अपने सूत्रों के माध्यम से लडकी का उत्तर प्रदेश के जिले बरेली का पता लगाया। लडकी और आरोप लडके को कैट टीम के द्वारा बरेली से बरामद कर फरीदाबाद लाया गया। कैट टीम ने आगामी कार्रवाई के लिए लडकी और आरोपी को थाना डबुआ की टीम के हवाले कर दिया। 

गिरफ्तार आरोपी प्रदीप उत्तर प्रदेश के बरेली जिले के गांव गुलड़िया का रहने वाला है। लडकी के परिजनो को सूचना दी गई जिसपर लडकी के परिजन थाना आए। लडकी से परिजनो के सामने पूछताछ की गई और माननीय अदालत में भी लडकी के ब्यान कराए गए। लडकी के ब्यान पर मुकदमें में 366ए धारा जोडी गई है। आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपी से पूछताछ की जा रही है पूछताछ के बाद आरोपी को अदालत में पेश किया जाएगा। लडकी को ब्यान के बाद सकुशल परिजनों के हवाले कर दिया गया है।